“धुलागढ़ में राक्षस राज, दंगों के सबूत मिटा रही है ममता सरकार”

author image
Updated on 8 Feb, 2017 at 8:41 pm

Advertisement

राष्ट्रीय महिला आयोग ने बुधवार को आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल सरकार हावड़ा के धुलागढ़ में दंगों के सबूत मिटा रही है।

धुलागढ़ के दौरे पर आईं राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्या सुषमा साहू ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहाः “यहां स्थिति बेहद भयावह है। देखकर ऐसा लगता है कि जैसे यहां राक्षस राज चल रहा हो। राज्य सरकार की भूमिका पर प्रश्नचिह्न लगाते हुए शाह ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को एक बार इस इलाके में आकर देखना चाहिए।”

सुषमा शाह राष्ट्रीय महिला आयोग की चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहीं थीं।

सुषमा ने कहाः


Advertisement

“यहां राक्षस युग दिख रहा है। हर घर का कोना जला हुआ है। हर व्यक्ति की आंखों से खून के आंसु निकल रहे हैं।”

राज्य सरकार की चुटकी लेते हुए सुषमा शाह ने कहा कि जहां लाखों रुपए की सामग्री नष्ट कर दी गई, वहीं राज्य सरकार की तरफ से क्षतिपूर्ति के रूप में सिर्फ 35 हजार रुपए दिए गए हैं। यह आम जनता के विश्वास को जलाने जैसा है।

गौरतलब है कि गत 14 दिसंबर को साम्प्रदायिक हिंसा की आग में जले धुलागढ़ में हालात अब भी सामान्य नहीं हैं। यहां इस्लामिक चरमपंथियों की भीड़ ने दर्जनों मकान और दुकानें जला दी। इससे पहले यहां जमकर लूटपाट की गई थी।

यह स्थान राजधानी कोलकाता से सिर्फ 25 किलोमीटर दूर है।

राज्य सरकार पर आरोप है कि धुलागढ़ में हालात को सामान्य करने की दिशा में कोशिश नहीं की जा रही है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कह चुकी हैं कि धुलागढ़ में कुछ भी नहीं है। 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement