नगालैंड के हृदय की धड़कन है हॉर्नबिल महोत्सव, दुनियाभर के पर्यटक होते हैं आकर्षित

author image
Updated on 2 Feb, 2017 at 4:29 pm

Advertisement

हॉर्नबिल महोत्सव को अगर नगालैंड के हृदय की धड़कन कहें तो अतिश्योक्ति नहीं होगी। यह न केवल राज्य का सबसे बड़ा वार्षिक महोत्सव है, बल्कि दुनिया भर के पर्यटक यहां इसके आकर्षण से खिंचे चले आते हैं।

हॉर्नबिल महोत्सव प्रतिवर्ष दिसम्बर महीने के पहले सप्ताह में मनाया जाता है।

पर्यटन व कला एवं संस्कृति विभाग के संयुक्त तत्वावधान में इस महोत्सव का आयोजन मुख्य तौर पर होता है किसामा में। यह स्थान राजधानी कोहिमा से 12 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

7 से 10 दिन तक चलने वाले इस ऐतिहासिक महोत्सव के दौरान नगा जनजाति के समृद्ध व जीवंत संस्कृति को दर्शाया जाता है। इस दौरान नृत्य, संगीत, शिल्प, खेल सरीखे आयोजनों के अलावा कई तरह के धार्मिक अनुष्ठान भी होते हैं।

इस उत्सव का सबसे बड़ा आकर्षण यहां के नगा नायकों की बहादुरी की प्रशंसा में गाए जाने वाले गीत हैं।

इस महोत्सव का नाम हॉर्नबिल पक्षी के नाम पर रखा गया है। दरअसल, नगा समुदाय के सदस्य इस पक्षी के पंखों से सजी टोपी पहनते हैं। यही नहीं, इस पक्षी के पंख उनके वस्त्रों की शोभा भी बढ़ाते हैं।

हॉर्नबिल महोत्सव के दौरान पर्यटक नगा जीवन से जुड़े पारंपरिक चित्र, सामान, शॉल और मुर्तियों की खरीदारी कर सकते हैं।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement