Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

नगालैंड के हृदय की धड़कन है हॉर्नबिल महोत्सव, दुनियाभर के पर्यटक होते हैं आकर्षित

Updated on 2 February, 2017 at 4:29 pm By

हॉर्नबिल महोत्सव को अगर नगालैंड के हृदय की धड़कन कहें तो अतिश्योक्ति नहीं होगी। यह न केवल राज्य का सबसे बड़ा वार्षिक महोत्सव है, बल्कि दुनिया भर के पर्यटक यहां इसके आकर्षण से खिंचे चले आते हैं।

हॉर्नबिल महोत्सव प्रतिवर्ष दिसम्बर महीने के पहले सप्ताह में मनाया जाता है।

पर्यटन व कला एवं संस्कृति विभाग के संयुक्त तत्वावधान में इस महोत्सव का आयोजन मुख्य तौर पर होता है किसामा में। यह स्थान राजधानी कोहिमा से 12 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

7 से 10 दिन तक चलने वाले इस ऐतिहासिक महोत्सव के दौरान नगा जनजाति के समृद्ध व जीवंत संस्कृति को दर्शाया जाता है। इस दौरान नृत्य, संगीत, शिल्प, खेल सरीखे आयोजनों के अलावा कई तरह के धार्मिक अनुष्ठान भी होते हैं।

इस उत्सव का सबसे बड़ा आकर्षण यहां के नगा नायकों की बहादुरी की प्रशंसा में गाए जाने वाले गीत हैं।



इस महोत्सव का नाम हॉर्नबिल पक्षी के नाम पर रखा गया है। दरअसल, नगा समुदाय के सदस्य इस पक्षी के पंखों से सजी टोपी पहनते हैं। यही नहीं, इस पक्षी के पंख उनके वस्त्रों की शोभा भी बढ़ाते हैं।


Advertisement

हॉर्नबिल महोत्सव के दौरान पर्यटक नगा जीवन से जुड़े पारंपरिक चित्र, सामान, शॉल और मुर्तियों की खरीदारी कर सकते हैं।

Advertisement

नई कहानियां

Tamilrockers पर लीक हुई ‘छिछोरे’, देखने के साथ फ्री में डाउनलोड कर रहे लोग

Tamilrockers पर लीक हुई ‘छिछोरे’, देखने के साथ फ्री में डाउनलोड कर रहे लोग


Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!


जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका

जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका


प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें

प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें


ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं

ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें Culture

नेट पर पॉप्युलर