तीन तलाक से मुक्ति की आस लिए संकटमोचन हनुमान की शरण में पहुंची मुस्लिम महिलाएं

author image
Updated on 10 May, 2017 at 5:22 pm

Advertisement

तीन तलाक का मुद्दा पूरे देश में चर्चा का विषय बना हुआ है। तीन तलाक की पीड़ित महिलाएं अपनी परेशानियों को लेकर सामने आई हैं। अब आलम यह है कि बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाएं खुद तीन तलाक के विरोध में आगे आ रही हैं।


Advertisement

इस कड़ी में तीन तलाक की प्रथा से मुक्ति की आस लिए, वाराणसी में मुस्लिम महिलाएं संकटमोचन हनुमान की शरण में पहुंच गई हैं।

मुस्लिम महिला फाउंडेशन की राष्ट्रीय प्रमुख नाजनीन अंसारी के नेतृत्व में सैकड़ों मुस्लिम महिलाएं पातालपुरी मठ पहुंची। यहां इन महिलाओं ने श्रीराम, सीता सहित संकटमोचन हनुमान की पूरे विधि-विधान के साथ पूजा अर्चना कर हनुमान चालीसा का पाठ किया।

आपको बता दें कि 11 मई को सुप्रीम कोर्ट के संविधान पीठ में तीन तलाक पर सुनवाई होनी है। ऐसे में मुस्लिम महिलाओं में इसे लेकर बेचैनी और डर है कि आगे क्या होगा। इसलिए सुनवाई से एक दिन पहले तुलसीदास जी द्वारा स्थापित हनुमान मंदिर में हनुमान चालीसा का पाठ रखा गया, ताकि  उन्हें शांति की अनुभूति हो।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement