Advertisement

साउंड थेरेपी है तनाव दूर करने का बेहतरीन साधन, हाई ब्लड प्रेसर से मिलती है निजात!

9:33 pm 6 Sep, 2017

Advertisement

आज की भागदौड़ भरी ज़िंदगी में शायद ही कोई ऐसा इंसान होगा जो तनावग्रस्त न हो। चाहकर भी हम तनाव से पूरी तरह दूर नहीं रह सकते। हां, इससे बचने के लिए एक्सरसाइज़, हेल्दी डायट जैसी चीज़ें फॉलो करते हैं। वैसे इसके अलावा एक और तरीका है तनाव दूर करने का, और वो है साउंड या म्युजिक थेरेपी।

कई शोधों में यह साबित भी हो चुका है कि संगीत तनाव और अवसाद कम करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है। संगीत सुनने से कई बीमारियां भी दूर होती हैं। यह नींद न आने की समस्या को भी दूर करता है। यदि आप कुछ घंटे अपना मनपसंद म्यूज़िक सुनते है, तो तनाव अपने आप दूर हो जाता है। इससे फील गुड हार्मोन का स्राव होता है और दिमांग शांत हो जाता है। खास बात ये है कि म्युजिक थेरेपी का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता।

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि म्युज़िक इंस्ट्रूमेंट की तेज़ आवाज़ का मस्तिष्क पर एक उत्तेजक प्रभाव पड़ता है। यह ध्यान और एकाग्रता बढ़ाता है। साथ ही चारों और हो रही गतिविधियों के प्रति मस्तिष्क को जागरूक रखने में मदद करता है। इसी तरह धीमे संगीत का उपयोग एकाग्रता को बढ़ाने के लिए किया जाता है।


Advertisement

संगीत दिमाग के साथ हृदय और नर्वस सिस्टम पर भी असर डालता है। हृदय की धड़कन और श्वास की गति संगीत की मदद के साथ बदले जा सकते हैं। यह लंबे समय से चले आ रहे तनाव को दूर करने का आसान तरीका है। तनाव की वजह से कई अन्य बीमारियां भी हो जाती हैं, म्यूज़िक थेरेपी से इनसे बचा जा सकता है।

म्यूज़िक थेरेपी से हाइ ब्लड प्रेशर और दिल की बीमारियों से भी निजात पाई जा सकती है।

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement