‘शिक्षक दिवस’ के दिन एक शिक्षक का अपमान, एक विधायक ने प्रोफेसर को धमकाया

author image
Updated on 6 Sep, 2016 at 2:42 pm

Advertisement

शिक्षक दिवस पर जहां शिक्षकों को देशभर में सम्मानित किया जा रहा था, वहीं मध्य प्रदेश से जो खबर आई है, वह शर्मनाक है। यहां एक प्रोफेसर को बसपा विधायक ने सबके सामने अपशब्द सुनाते हुए अपमानित किया।

इस रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य में बीएसपी के विधायक बलवीर दंडोतिया ने प्रोफेसर को सबके सामने अपशब्द कहे। इसके पीछे की वजह सिर्फ इतनी थी कि प्रोफेसर एक कार्यक्रम के दौरान स्वागत भाषण को पढ़ते हुए विधायक का नाम लेना भूल गए थे।

mla

प्रोफेसर से उलझे विधायक दंडोतिया (बाएंं) bhaskar

दरअसल, शिक्षक दिवस के दिन मुरैना में शिक्षकों का सम्मान करने के लिए एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।  इस कार्यक्रम में बसपा विधायक बलवीर दंडोतिया, उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया और स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह अतिथि के रूप में मौजूद थे।

कार्यक्रम का संचालन करने जब प्रोफेसर डॉ. जेके मिश्रा मंच पर पहुंचे, तो उन्होंने स्वागत भाषण पढ़ना शुरू किया और एक-एक कर अतिथियों को संबोधित किया। इस दौरान वह बसपा विधायक का नाम लेना भूल गए।



इस बात से नाराज विधायक ने प्रोफेसर को अपने पास बुलाया और कहा कि, ‘कौन है तू? मैं तेरे बाप का नौकर हूं जो तूने मेरा नाम नहीं लिया।’ इस बात पर वहां मौजूद अन्य दो मंत्रियों ने अपनी कोई प्रतिक्रिया दर्ज नहीं की।

इस पूरे वाकये पर प्रोफेसर डॉ. जेके मिश्रा का कहना है कि स्वागत भाषण के दौरान वह विधायक का नाम लेने ही वाले थे लेकिन इससे पहले ही उन्हें बुला लिया गया। विधायक के नाराज होने पर उन्होंने माफी भी मांग ली थी।

जब इस ववाद ने तूल पकड़ना शुरू किया, तो विधायक ने अपनी सफाई में कहा कि उन्होंने कोई अभद्र भाषा का इस्तेमाल नहीं किया था। बस उनका नाम न लेने पर उन्हें गुस्सा आ गया, जिसके बाद उन्होंने प्रोफेसर से कहा था कि ‘तुम क्या चाहते हो, अभी बताऊं क्या’।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement