अपने बच्चों को बचाने के लिए कोबरा से भिड़ गई ये मां, आखिर तक किया सामना

Updated on 22 Sep, 2018 at 11:06 am

Advertisement

प्रकृति ने मां को अलग ही बनाया है। सृष्टि और सृजन की मूरत मां को उसने अपने सभी गुण दिए हैं। ऐसा नहीं है कि मनुष्यों में ही, बल्कि जानवरों में भी मां को ईश्वर ने ममत्व से संवारा है। तभी तो मां का स्थान देवताओं से भी बड़ा होता है। वह न केवल जन्म देती है, बल्कि जीवन भी देती है। ओडिशा के इस पांच पिल्ले की मां के बारे में जानकर आप भी भावनाओं के ज्वार में बहने लगेंगे। अपने बच्चों को बचाने के लिए ये कुत्तियां कोबरा से भिड़ गई। इसने जी-तोड़ प्रयास किया, लेकिन…

 

 


Advertisement

गौरतलब है कि एक मकान की सीढ़ी के नीचे डॉगी अपने पांच बच्चों के साथ आराम कर रही थी कि विषैले नाग से सामना हो गया। इस कोबरे को देखकर डॉगी चिंतित हो गई। उसने कोबरे से लगभग 10 मिनट तक सामना किया ताकि उसके बच्चों की जान बच सके।

 

बेहद रिहायशी इलाके में रहने वाली डॉगी अगल-बगल से खाना जुटाती थी और बच्चों का भरण करती थी। लिहाजा लोग उसे अच्छी तरह जानते थे।

 



 

इस कुत्तियां ने इतना हल्ला मचाया कि आसपास के लोग घटनास्थल आ पहुंचे। बचाव दल के लोग जब तक पहुंचते, तब तक कोबरे ने 2 बच्चों को अपना शिकार बना लिया था। इस विषैले सांप ने वाकई उन्हें नुकसान पहुंचाने की ठान रखी थी। बचाव दल के लाख प्रयास के बावजूद कोबरे ने 2 और बच्चे को नुकसान पहुंचा दिया। इस घटना से इलाके के लोग भी बेहद दुखी हैं और इन पांच पिल्लों की मां के दुःख का तो कोई अंत नहीं है। बता दें कि इस विदारक घटना में महज एक पिल्ले को ही बचाया जा सका।

 

भगवान ने अन्य जीवों को भी भावनाएं दी हैं। आप खुद इस वीडियो में देख सकते हैं –

 


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement