बदमाश बंदर ने दौड़ा दी बस; दो वाहनों को मारी टक्कर, मच गया हड़कंप

author image
Updated on 29 Dec, 2015 at 8:39 pm

Advertisement

यह किस्सा किसी सर्कस का नहीं है। बरेली के बस स्टैंड पर एक दुस्साहसी बंदर ने हड़कंप मचा दिया। दरअसल, खाली खड़ी बस में बंदर ने मौका पा कर ड्राइवर की सीट पर क़ब्ज़ा जमा लिया। और तो और बस को स्टार्ट कर के दूसरे गियर में करीब 50 मीटर तक दौड़ा भी दिया। हालांकि, बस का ड्राइवर उस वक़्त बस के अंदर ही मौजूद था, लेकिन जब तक वह बस को नियंत्रित कर पाता, तब तक बस ने दो अन्य वाहनों को टक्कर मार दी थी।

 

 

पीलीभीत से वापस आई उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम ( यूपीएसआरटीसी) की एक बस विश्राम समय में खाली खड़ी थी। बस के निकलने में देरी थी, इसलिए ड्राइवर ने बस के अंदर ही पिछली सीट पर कुछ देर झपकी ले ली। जबकि बस का कंडक्टर पुराने रोडवेज स्टेशन पर सवारी की तलाश में निकल गया।

बस को खाली पाकर बंदर ड्राइवर सीट पर जाकर इग्निशन बटन से इंजन को स्टार्ट करने में कामयाब हो गया। इंजन स्टार्ट होने की आवाज़ सुन कर ड्राइवर की आंख खुली, लेकिन जब तक तक वह बंदर को भगा पाता तब तक बंदर दूसरा गियर लगा कर बस से निकल भागा।

 

 


Advertisement

इस दौरान बिना ड्राइवर की बस को चलता देखकर लोगों में अफ़रातफ़री मच गई। कुछ देर बाद ही ड्राइवर ने इस पर नियंत्रण कर लिया, हालांकि तब बस ने दो वाहनों को टक्कर मार दी थी। इस घटना के सिलसिले में यूपीएसआरटीसी के क्षेत्रीय प्रबंधक एसके शर्मा ने बतायाः

“तीन साल पहले हमने बंदरों से छुटकारा पाने के लिए नगर निगम के अधिकारियों से मदद ली थी। लेकिन वे फिर वापस आ गए। बंदरों का आतंक बस स्टेशन और बस वर्कशॉप पर बढ़ चुका है। जहाँ तमाम बसें मरम्मत के लिए आती ही रहती हैं। यहां तक इन उत्तपाती बंदरों ने स्टेशनों के सीसीटीवी कैमरे तक क्षतिग्रस्त कर दिए हैं।”

 

 

 

प्रबंधक ने यह आश्वासन दिया है की यूपीएसआरटीसी, नगर निगम के अधिकारियों के साथ बातचीत कर रही है और जल्द ही बस स्टेशन के आसपास से बंदरों को पकड़ने और उन्हें कहीं और हस्तांतरण करने के लिए अति आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement