सूर्य नमस्कार करने पर कट्टरपंथियों ने कैफ को बनाया निशाना, प्रशंसकों ने दिया करारा जवाब

author image
Updated on 2 Sep, 2017 at 4:51 pm

सूर्य नमस्कार करना सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है लेकिन कुछ कट्टरपंथी लोग इसको धर्म के साथ जोड़ने लगते हैं। ऐसा ही कुछ क्रिकेटर मोहम्मद कैफ के साथ हुआ।

कैफ ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर सूर्य नमस्कार करते हुए अपनी तस्वीर शेयर की। ट्विटर पर अपनी तस्वीर पोस्ट करने के बाद कथित इस्लाम रक्षक उन पर भड़क गए।

कैफ ने इन तस्वीरों के साथ लिखा कि सूर्य नमस्कार शारीरिक प्रणाली के लिए पूर्ण व्यायाम है। इस एक्सरसाइज को करने के लिए किसी भी अन्य उपकरण की जरूरत नहीं है।

हद तो तब हो गई जब सूर्य नमस्कार की इस तस्वीर की वजह से मुस्लिम कट्टरपंथियों ने कैफ पर ‘अधर्म’ करने का आरोप लगा दिया। धर्म के ठेकेदारों ने कैफ को इस तस्वीर पर सलाहें देनी शुरू कर दी और अभद्र भाषा का भी प्रयोग करने लगे।

कुछ लोगों ने कैफ को सूर्य नमस्कार को गैर-इस्लामिक बताकर उन्हें ट्रोल करने की कोशिश की वहीं बड़ी तादाद में लोग उनके समर्थन में आए और ट्रोलर्स को करारा जवाब दिया।

तस्वीर पर बहस जब लंबी हो गई तो कैफ ने इन कथित इस्लाम रक्षकों को करारा जवाब देते हुए ट्वीट कर कहा कि “मेरे द्वारा शेयर की गई हर फोटो में मेरे अभ्यास करने के दौरान मेरे दिल में अल्लाह था। मैं यह नहीं समझ पा रहा हूं कि कोई भी एक्सरसाइज, चाहे वह सूर्य नमस्कार हो या जिम हो, इसका धर्म से क्या संबध है? यह सभी को फायदा पहुंचाती है।

यह पहला मौका नहीं है जब सोशल मीडिया पर किसी खिलाड़ी को निशाना बनाया गया हो। इससे पहले क्रिकेटर मोहम्मद शमी को भी पत्नी के साथ तस्वीर पोस्ट करने पर ट्विटर पर मुस्लिम कट्टरपंथियों से काफी कुछ सुनने को मिला। तब क्रिकेट जगत समेत कई लोग शमी के समर्थन में आए थे।

आपके विचार