सड़क किनारे सुसू करते दिखे मंत्री जी, वायरल विडियो पर बवाल

author image
3:28 pm 20 Nov, 2017

Advertisement

एक तरफ तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरे भारत में स्वच्छ भारत अभियान चला देश को खुले से शौच से मुक्त कराने का अभियान चला रहे हैं। दूसरी तरफ उन्हीं के पार्टी के नेता इस अभियान की धज्जियां उड़ा रहे हैं।

महाराष्ट्र के भाजपा नेता और जल संरक्षण मंत्री राम शिंदे एक विडियो वायरल होने के बाद वह विवाद में फंस गए हैं। दरअसल, वह विडियो में सड़क किनारे खुले में पेशाब करते हुए नजर आ रहे हैं।

 

यह मामला ऐसे समय पर आया है, जब महाराष्ट्र सरकार खुले में शौच से मुक्ति का अभियान बड़े पैमाने पर चला रही है। पीएम मोदी भी स्वच्छ भारत मिशन को बढ़ावा दे रहे हैं।


Advertisement

बताया जा रहा है कि यह घटना 19 नवंबर को उस समय हुई जब शिन्दे शोलापुर के मालेगांव में जल संरक्षण परियोजना का निरीक्षण करने निकले थे। विडियो में दिखाया गया है कि शिंदे एक खेत में पेशाब कर रहे हैं, जबकि उनका काफिला शोलापुर बरसी रोड पर इंतजार कर रहा था। उन्हें ऐसा करता देख पास में मौजूद कुछ लोगों ने विडियो बना लिया, जो देखते ही देखते सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

इस विडियो के वायरल होने के बाद मंत्री अपने बचाव में उतरे हैं और उन्होंने सफाई दी है। शिंदे कारजाट जामखेड़ विधानसभा सीट से बीजेपी के विधायक हैं।

विवाद बढ़ने के बाद शिंदे ने सफाई देते हुए बताया कि वह पिछले महीने से सरकार की योजना को लेकर उच्च तापमान और निरंतर धूल में यात्रा कर रहे हैं। इसके चलते उन्हें बुखार हो गया और जब उन्हें यात्रा के दौरान कोई टॉयलेट नहीं दिखा तो उन्होंने खुले में पेशाब किया।

मंत्री राम शिंदे भले ही खुद के बीमार होने की बात कह रहे हो लेकिन नेशनल कांग्रेस पार्टी (NCP) और आम आदमी पार्टी (AAP) जैसे विपक्षी दलों को इस मामले को लेकर बीजेपी को घेरने का मौका मिल गया। वह मंत्री के इस तरह की करनी को स्वच्छ भारत अभियान के लिए विफलता बता रहे हैं।

एनसीपी इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया देते हुए पीएम पर निशाना साधा और कहाः



“प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोगों को अनुशासन का पालन करने के लिए कैसे कह सकते हैं, जबकि उनकी खुद की पार्टी के लोग अनुशासनहीन लोगों का एक समूह है।”

एनसीपी ने आगे कहा कि मंत्री को हाईवे पर कोई शौचालय नहीं मिला, जिससे यह साफ़ होता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्‍वच्‍छ भारत अभियान विफल है।

 

इस मुद्दे पर आम आदमी पार्टी ने भी ट्विटर के जरिए केंद्र सरकार और स्वच्छ भारत अभियान पर निशाना साधा।

 

गौरतलब है कि कृषि मंत्री राधामोहन सिंह की भी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी, जिसमें कथित तौर पर उन्हें खुले में पेशाब करते दिखाया गया था।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement