#MeToo की आड़ में इस लड़की ने उतार दिए अपने कपड़े, लेकिन इस कहानी में एक ट्विस्ट है

Updated on 30 Oct, 2018 at 5:39 pm

Advertisement

हाल ही में बॉम्बे हाईकोर्ट ने कहा था देशभर में छिड़े #MeToo अभियान का किसी भी लड़की को गलत इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। कोर्ट का कहना था ये अभियान पीड़ितों का है इसलिए यह सही नहीं है कोई भी इसका दुरुपयोग करे। लेकिन ऐसा लगता है कुछ लोग अभी भी #MeToo को हथियार बनाकर मनमानी करना चाह रहे हैं। ताजा मामला मुंबई का है, जहां एक लड़की ने #MeToo की आड़ में कुछ ऐसा कर दिया, जो उसे नहीं करना चाहिए था। उसने गुस्से में आकर अपने कपड़े उतार दिए।

मुंबई के ओशिवारा में रहने वाली एक लड़की का वीडियो सामने आया है, इसमें वो लिफ्ट के अंदर जमकर हंगामा कर रही है। देखते ही देखते लड़की ने पुलिस और सिक्योरिटी गार्ड के सामने अपने कपड़े उतार दिए।

वीडियो को देख आप यह तो समझ जाएंगे ये लड़की काफ़ी गुस्से में है और अपना आपा खो बैठी है, लेकिन पूरा वीडियो देखने पर भी शायद आपको मामला समझ न आए। तो चलिए हम आपको बताते हैं पूरा वाकया है क्या।

 

वीडियो में नज़र आ रही लड़की पेशे से एक मॉडल है, नाम है मेघा शर्मा। कहा जा रहा है 25 अक्टूबर की देर रात इस लड़की ने गार्ड को सिगरेट लाने को कहा। लेकिन गार्ड ने ऐसा करने से मन कर दिया।

गार्ड के इनकार करने पर लड़की को गुस्सा आ गया और इसके बाद जो हुआ वो आप नीचे दिए गए वीडियो में खुद ही देख लीजिए। लड़की गुस्से से इस कदर तमतमा गईं उन्होंने गार्ड पर हाथ उठा दिया और CCTV कैमरे में ये हाथापाई कैद हो गई। फिर लड़की ने पुलिस को फ़ोन मिला दिया।

 

 

फिर जब बिल्डिंग में पुलिस पहुंची मेघा लिफ्ट से ऊपर जाने लगी। इसके बाद गार्ड्स और पुलिस ने लिफ्ट को रोक लिया। पुलिस लड़की से थाने चलने के लिए कहती रही। मगर लड़की ने इस बात पर एतराज जताया। उसका कहना था पुलिस स्टेशन चलने के लिए महिला पुलिसकर्मियों का साथ होना ज़रूरी है। हम भी इस बात से सहमत है। लड़की की मांग कानूनी तौर पर जायज़ थी। लेकिन उसके बाद जो लड़की ने किया उसे किसी भी तरह से जायज़ नहीं ठहराया जा सकता। लड़की ने तैश में आकर अपने कपड़े उतारने शुरू कर दिए।

 

मुंबई में पुलिस के सामने लड़की ने उतारे कपड़े- Girl Stripped In Mumbai In Front Of Police


Advertisement

 

लड़की ने अपना पक्ष रखते हुए ट्विटर पर #MeToo के साथ एक पोस्ट भी शेयर किया है, जिसमें उसने लिखा है-

 

“आखिर में मुझे वो करना ही पड़ा, जिसे करने के लिए एक महिला 100 बार सोचेगी। मुझे अपने कपड़े उतारने पड़े ताकि मेरे कपड़े उतारने पर वो लोग शर्मिंदा होकर वहां से चले जाएं। लेकिन वहां मौजूद लोग मेरा वीडियो बनाते रहे। पुलिसवाले भी थे। उन्होंने वीडियो बनाने वालों को रोका तक नहीं। मैं रोई,चिल्लाई कि एक लड़की को अपने कपड़े उतारने पड़े, अब तो तुम लोग ठीक होगे।  इसके बाद वो लोग और पुलिसवाले वहां से गए।”

 

 

वहीं मुंबई पुलिस ने इस मामले को लेकर कहा है मेघा शर्मा ने रात के समय बिल्डिंग के गार्ड से सिगरेट लाने को कहा था, लेकिन गार्ड के मना करने पर उसने उसके साथ हाथापाई शुरु कर दी।

 

मुंबई में पुलिस के सामने लड़की ने उतारे कपड़े- Girl Stripped In Mumbai In Front Of Police

 

इस मामले में पुलिस का बिना महिला पुलिसकर्मियों के लड़की को देर रात पुलिस स्टेशन ले जाने के लिए जोर डालना सही नहीं था। लेकिन वीडियो में नजर आ रही लड़की का इस तरह कपड़े उतार देना कहां तक जायज़ है?

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement