मथुरा मास्टरमाइन्ड को लेकर सस्पेन्स अब भी बरकरार, 368 लोग गिरफ्तार

author image
Updated on 7 Jul, 2016 at 5:30 pm

Advertisement

मथुरा के जवाहर बाग में अतिक्रमण हटाने के दौरान भड़की हिंसा का मास्टरमाइन्ड रामवृक्ष यादव पर सस्पेन्स अब भी बरकरार है। घटना के 48 घंटे बीत जाने के बाद भी रामवृक्ष यादव अब तक पुलिस की पकड़ से बाहर है।

हालांकि, पुलिस अधिकारियों ने कहा है कि जवाहर बाग में मिले मृत शरीर में एक लाश रामवृक्ष यादव की भी हो सकती है।

यहां से मिले सभी शवों के डीएनए टेस्ट कराने की बात कही गई है। इस मामले में अब तक 368 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

खाली करा लिया गया जवाहर बाग


Advertisement

इस बीच, जवाहर बाग को पूरी तरह खाली करा लिया गया है। उत्तर प्रदेश के डीजीपी जावेद अहमद ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि जवाहर बाग की घटना में उपद्रवियों ने विस्फोटक और गोला-बारूद का इस्तेमाल किया था। उन्होंने कहा कि झोपड़ियों में विस्फोटक छुपा कर रखे गए थे।

शहीद एसओ संतोष यादव का अंतिम संस्कार

जवाहर बाग में गोलीबारी की घटना में शहीद हुए एसओ संतोष यादव का शनिवार की सुबह अंतिम संस्कार कर दिया गया।

यादव के परिजन अंतिम संस्कार के लिए मान नहीं रहे थे, लेकिन मंत्री पारसनाथ यादव और दूसरे अधिकारियों ने उन्हें तेरहवीं से पहले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ आने का भरोसा दिलाया है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement