कोलकाता में मार्क्सवादियों ने पुलिसकर्मियों को सड़क पर लिटा कर पीटा, पत्रकार लाठीचार्ज के शिकार

author image
Updated on 23 May, 2017 at 12:29 pm

Advertisement

पश्चिम बंगाल में वापसी की जद्दोजहद में लगे वामदलों के समर्थकों ने इन्सानियत को शर्मशार करने का काम किया है। मध्य कोलकाता में राज्य सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के लिए उतरे मार्क्सवादी कार्यकर्ताओं ने न केवल पुलिस पर जमकर पथराव किया, बल्कि कई पुलिस अधिकारियों को सड़क पर लिटाकर जमकर लाठी चलाई। इस घटना से बिफरे पुलिसबल ने इसे कवर कर रहे पत्रकारों पर अपना गुस्सा उतारा। पुलिस के हमले में कई मीडिया रिपोर्टर गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस अधिकारी की पहचान 40 वर्षीय बोद्धिसत्व प्रमाणिक के तौर पर हुई। वह बड़ाबाजार थाना में सेकंड अॉफिसर हैं।

वहीं, पुलिस के हमले में घायल होने वाले फोटोपत्रकार की पहचान इन्द्रनील भादुरी के रूप में की गई है। वह आर प्लस न्यूज चैनल के साथ जुड़े हुए हैं।

भादुरी ने कहाः


Advertisement

“मैं लाइव प्रोग्राम कर रहा था और पुलिसवालों ने मुझपपर घूंसे चलाए और लाठियों से भी मारा। मेरे पैरों में चोट है। उन्होंने मेरा विडियो कैमरा भी तोड़ दिया।”

यह हंगामा तब हुआ जब मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी सहित अन्य वामदलों ने राज्य सरकार की कथित किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था। यहां से पुलिस ने सुजान चक्रवर्ती, अशोक भट्टाचार्य और तन्मय भट्टाचार्य जैसे वाम नेताओं को हिरासत में ले लिया।

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने दावा किया है कि राज्य सरकार विरोधी इस अभियान में लाखों वाम समर्थकों ने हिस्सा लिया है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement