पंचतत्व में विलीन हुआ देश का यह वीर सपूत, दुश्मनों से लड़े अंतिम सांस तक

author image
Updated on 12 Nov, 2016 at 8:00 pm

Advertisement

जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान से लोहा लेते वक्त शहीद हुए विकास कुमार मिश्र शनिवार को पंचतत्व में विलीन हो गए। मधुबनी जिले के झंझारपुर प्रखंड के रैयाम गांव के रहने वाले 25 वर्षीय  विकास कुमार सीमा सुरक्षा बल (BSF) की 94 बटालियन के जवान थे।

देश के इस वीर सपूत के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन हेतु हजारों की संख्या में लोग जमा थे। जिले के अलग-अलग स्थानों से आए हजारों लोगों ने उन्हें अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। लोगों ने नम आंखों के साथ अपने इस लाल को अंतिम विदाई दी।

बचपन से ही देश की सेवा का जूनून अपने अंदर लिए विकास कुमार दो साल पहले ही BSF में तैनात हुए थे। ट्रेनिंग पूरी कर उनकी पदस्थापना श्रीनगर के पुंछ सेक्टर के एक पोस्ट पर हुई थी।

जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में देश के दुश्मनों से लड़ते हुए विकास कुमार घायल हो गए थे। उन्हें अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका।


Advertisement

मिसाल बन चुके विकास कुमार शहीद होकर भी अमर रहेंगे। जय हिंद।

आपके विचार


  • Advertisement