शादी के 21 दिन बाद शहीद हो गया पति, मातम की तस्वीरें देख कर रो पड़ेगा आपका दिल

author image
Updated on 21 Jul, 2016 at 11:06 am

Advertisement

प्रिया की शादी अभी 21 दिन पहले ही हुई थी। अभी तो उसके हाथों की मेहन्दी भी नहीं उतरी थी। अभी तो दोनों ने मिलकर ढंग से सपने भी नहीं बुने थे। कभी खुद को कोसती, कभी भगवान से शिकायत करती कि आख़िर पूरी ज़िंदगी वह इस दर्द के साथ कैसे सफ़र करेगी। उसके माथे से मिटे हुए सिंदूर को जो कोई भी देखता, तो वह भी सकते में आ जाता कि प्रिया कैसे यह प्रलय झेलेगी।

dainikbhaskar

पति की मौत के बाद रोती प्रिया। dainikbhaskar

आपको बता दें कि बीते सोमवार बिहार के डुमरीनाला के पास माओवादियों के खिलाफ चलाए गये अभियान के दौरान सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन के दस जवान बड़े आईईडी धमाके की चपेट में आ गए थे। इस धमाके में 10 जवान शहीद हो गए थे। वहीं, चार जवान घायल हो गए। प्रिया के पति दिवाकर उन शहीदों में से एक थे।

dainikbhaskar

सीआरपीएफ के शहीद जवान दिवाकर कुमार। dainikbhaskar


Advertisement

चीख सुन कांप गया लोगों का कलेजा

dainikbhaskar

दिवाकर के शहीद होने की सूचना मिलने पर रोते-बिलखते परिजन। dainikbhaskar

जब शहीद पति की सूचना प्रिया को मिली तो मानो दुःख का पहाड़ टूट पड़ा। आख़िर हो भी क्यों नही। अभी 21 दिन पहले ही तो ज़िंदगी के दूसरे पड़ाव को जीने के लिए कुछ सपने लिए डोली में बैठी थी। वह खुद से सवाल पूछती कि ऐसा उसके साथ क्यों हुआ। रह-रह कर बदहवास हो जाती और जब होश में आती तो चीखती। चीख भी इतनी दर्द से भरी की जो कोई भी सुनता वह खुद रो पड़ता।

dainikbhaskar

दिवाकर के पिता तनुकलाल को संभालते गांव के लोग। dainikbhaskar



जवान बेटा चला गया, अब कौन बनेगा बुढ़ापे का सहारा?

dainikbhaskar

बेटे की मौत की सूचना मिलने पर सदमे में माता-पिता और घर के लोग। dainikbhaskar

शहीद दिवाकर के पिता तनुकलाल तिवारी भी सदमें से उभर नही पा रहे हैं। खुद के भाग्य को कोसते कि आख़िर उनसे बड़ा बदनसीब कौन होगा, जिसने अपने आगे अपने जवान बेटे की मौत देखी हो।

dainikbhaskar

गया एयरपोर्ट पर हेलिकॉप्टर से शहीदों के शव को उतारते जवान। dainikbhaskar

तनुकलाल रोते-रोते कई बार बेहोश हो गए। गांव के पुरुष उन्हें संभालने में जुटे हैं। तनुकलाल कहते हैं, जवान बेटा तो चला गया अब उनकी चार बेटियों की शादी कैसे होगी। बुढ़ापे में कौन उनका सहारा बनेगा।

dainikbhaskar

शहीद जवानों को सलामी देते सीआरपीएफ के डीजीपी। dainikbhaskar

यहां देखें इस मुठभेड़ में शहीद हुए जवानों के नाम

shraddhanjali

टॉपयॅप्स टीम इन शहीदों को तहे दिल से श्रद्धांजलि अर्पित करती है, साथ में यह प्रार्थना भी करती है कि इस मुसीबत के घड़ी में भगवान उनके परिवार को ताक़त और हौसला दे


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement