मनोज कुमार को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से किया जाएगा सम्मानित

author image
Updated on 5 Mar, 2016 at 1:02 pm

Advertisement

हिंदी फिल्म जगत के जाने-माने अदाकार और निर्देशक 78 वर्षीय मनोज कुमार उर्फ़ भरत कुमार को वर्ष 2015 के लिए दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

भारत सरकार की ओर से यह पुरस्कार, सिनेमा जगत में महत्वपूर्ण योगदान के लिए दिया जाता है, जिसमें 10 लाख रुपए नकद राश‍ि, स्वर्ण कमल और एक शॉल पुरस्कार के रूप में शामिल है।

मनोज कुमार ने भारत सरकार द्वारा दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किए जाने पर कहाः


Advertisement

“मुझे यह बात पचाने में वक्त लगेगा कि मुझे यह पुरस्कार मिल रहा है। यह निश्चित रूप से प्रतिष्ठित पुरस्कारों में से है। मैंने अपने जीवन में जो कुछ भी हासिल किया, मैं उनसे संतुष्ट हूं और मेरा परिवार भी इस खबर से बेहद खुश है।”

मनोज कुमार ने ‘पूरब और पश्चिम’, ‘शहीद’, ‘उपकार’ और ‘क्रांति’ जैसी देशभक्ति फिल्मों से अपनी एक अलग छाप छोड़ी। इन्ही देशभक्ति फिल्मों ने मनोज कुमार को उनके प्रशंसकों के बीच ‘भरत कुमार’ नाम से लोकप्रिय बना दिया।

‘उपकार’ फिल्म के लिए उन्हें 1968 में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से नवाज़ा गया। तो वहीं 1992 में भारत सरकार ने उन्हें पद्मश्री से सम्मानित किया था।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement