मणिपुर के इस छात्र ने बेकार चीजों से बना डाला रोबोट जो करता है घरेलू काम

11:10 am 18 Aug, 2018

Advertisement

यूं तो बच्चे दुनियाभर की चीजों के लिए जिज्ञासु रहते हैं, लेकिन उनमें से कुछ ही अनुसंधान को लेकर सोचते हैं। मणिपुर के इस छात्र को बचपन से ही इलेक्ट्रॉनिक खिलौनों को तोड़-फोड़ कर उसके आतंरिक स्वरूप को देखनी की चाहत रही थी। वहीं रोबोट को लेकर उसकी दिलचस्पी इस कदर हुई कि खुद ही बना डाला।

 

इम्फाल स्थित जॉनस्टोन हायर सेकेंडरी स्कूल के कक्षा 12 में पढ़ने वाला छात्र थियाम नंदलाल सिंह ने बिना किसी प्रशिक्षण के रोबोट बनाकर सबको चौंका दिया है।

 

 

नंदलाल टर्मिनेटर, रोबोकॉप, वॉल-ई, ​​आर 2-डी 2, सी 3 पीओ- फिल्मों के रोबोट पात्रों से खासा प्रभावित रहा, उसने घर पर ही बेकार पड़ी चीजों से रोबोट बनाने का काम शुरू कर दिया। उसने ऐसे रोबोट की परिकल्पना की है, जो घरेलू काम आसानी से निबटा सके। इस दिशा में उसने बिना किसी ट्रेनिंग के काम शुरू किया और सफलता हासिल की।

 

 


Advertisement

नन्दलाल किसान परिवार से आते हैं और रोबोट निर्माण कर सबको हैरत में डाल दिया है। वहीं, उनके पड़ोसी इसे नंदलाल के लिए सामान्य बात मानते हैं, क्योंकि बचपन से ही उसमें आविष्कार के गुण मौजूद हैं। जानकारी हो कि इस रोबोट को 20 फीट की दूरी से भी कंट्रोल किया जा सकता है। हालांकि, अभी इसमें और भी सुधार की गुंजाइश है।

 

 

नंदलाल के शिक्षक जयचंद ने बताया कि नंदलाल द्वारा बनाए रोबोट जेओएन17 को उन्होंने स्कूल के फेसबुक पेज पर क्लिप बनाकर पेश किया। इससे इसकी जानकारी अधिक से अधिक लोगों को हुई और ये वायरल हुआ। लिहाजा राज्य शिक्षा विभाग को जब इसकी जानकारी हुई तो नंदलाल को प्रोजेक्ट पूरा करने के लिए फंड दिया गया है।

 

 

अब नंदलाल विज्ञान मेलों और कार्यशालाओं में भी जाने लगे हैं, ताकि अपने अनुसंधान और ज्ञान को बढ़ा सकें। नंदलाल के इस सफलता से ये पता चलता है कि अगर दिल में जज्बा हो तो आगे बढ़ने से कोई रोक नहीं सकता है। नंदलाल से छात्र प्रेरणा ग्रहण कर सकते हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement