साल में सिर्फ एक दिन खुलती है यह दुकान, और फिर सुबह से ही लग जाती है ग्राहकों की भीड़

author image
Updated on 14 Aug, 2018 at 4:31 pm

Advertisement

क्या कभी आपने ऐसी दुकान के बारे में सुना या ऐसी दुकान देखी है जो पूरे साल में सिर्फ एक ही दिन खुलती हो। जी हां, उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में एक ऐसी ही दुकान है, जिसका ताला साल भर में सिर्फ एक ही दिन खोला जाता है। और जब ये दुकान खुलती है तो इसके बाहर ग्राहकों की लंबी कतारे लग जाती हैं।

 

प्रतापगढ़ के लोगों को हर साल उस दिन का बेसब्री से इंतजार रहता है, जब यह दुकान खुलनी होती है। इस दुकान पर मिलने वाले मालपुए इतने मशहूर हैं कि पिछले साठ साल से यह दुकान बाजार में अपनी खास पैठ बनाए हुए है।

 

 

हर साल सिर्फ हरियाली अमावस्या के दिन ही यह दुकान खोली जाती है। दुकान के मालिक ओमप्रकाश पालीवाल का कहना है कि उनके परिवार की चार पीढ़ियां इस दुकान को चलाती आ रही हैं।

 


Advertisement

 

लोगों को यहां के मालपुए का स्वाद अपनी ओर खींचता है। जिस दिन ये दुकान खुलती हैं, उस दिन सुबह से ही लोग गरमा-गरम मालपुए खरीदने के लिए लाइन में खड़े हो जाते हैं।

 

स्थानीय लोगों का कहना है कि इस दुकान के जैसे मालपुए का स्वाद और कहीं नहीं मिलता। ये न सिर्फ स्वादिष्ट होते हैं, बल्कि इन्हें परोसने का अंदाज भी निराला होता है। इन मालपुवों को पलाश के पत्तों में में परोसा जाता है।

 

malpua pratapgarh shop

 

इस दुकान की एक और खासियत ये है कि इस दुकान पर पुराने जमाने का हाथ से बना ताला ही लगाया जाता है। दुकान के मालिक का मानना है कि यह ताला आज के तालों से कई गुना मजबूत होता है और सुरक्षा के लिहाज से ज्यादा उपयोगी होता है।

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement