बॉलीवुड बना रहा है मलाला यूसुफजई पर फिल्म, लेकिन पाकिस्तान को ये बात हजम नहीं हो रही

author image
Updated on 7 Jul, 2018 at 5:08 pm

Advertisement

बॉलीवुड में इन दिनों बायॉपिक या फिर सच्ची घटनाओं पर आधारित फिल्मों का चलन छाया हुआ है। अभी हाल ही में संजय दत्त के जीवन पर आधारित फिल्म ‘संजू’ 200 करोड़ की कमाई का आंकड़ा पार कर चुकी है। वहीं, फिल्ममेकर्स एक से बढ़कर एक प्रेरक कहानियों को पर्दे पर उतार रहे हैं। हाल ही में ‘राजी’ और ‘परमाणु’ जैसी सच्ची प्रेरक फिल्मों ने सिनेमाघरों में अच्छा प्रदर्शन किया। लोगों को ये फिल्में पसंद आईं। उधर, इस सूची में ‘सूरमा’, ‘गोल्ड’, और ‘मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी’,जैसी फिल्में भी बड़े पर्दे पर उतरने को तैयार हैं।

 

इसी बीच, सामाजिक कार्यकर्ता और नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई के जीवन पर आधारित एक फिल्म भी बड़े पर्दे पर दस्तक देने वाली है। इस फिल्म के बनने की खबर तो पहले ही इसी साल जनवरी में आ गई थी, लेकिन अब इस फिल्म का पोस्टर हाल ही में रिलीज किया गया है।

 

globalpartnership


Advertisement

 

पाकिस्तान के खैबर-पख्तूनख्वा प्रांत में जन्मीं मलाला ने जब से अपना होश संभाला उन्होंने लड़कियों की शिक्षा के लिए अपनी आवाज बुलंद की। उन्होंने  पाकिस्तान के लोगों में महिला शिक्षा के प्रति जागरूकता लाने के लिए कई अभियान चलाए।

11 साल उम्र में मलाला ने ‘गुल मकई’ नाम की अपनी डायरी के जरिए तालिबान के खिलाफ अभियान की शुरुआत की। मलाला ने तालिबान के स्कूल न जाने फरमान के बावजूद लड़कियों को शिक्षा के लिए प्रेरित करने का अपना अभियान जारी रखा।

 

 

इसी के चलते अक्टूबर 2012 में स्‍कूल से लौटते वक्‍त मलाला पर तालिबानी आतंकियों ने हमला किया। उन्हें सिर में गोली मारी गई थी। उन्हें इलाज के लिए पेशावर फिर लंदन ले जाया गया। अपने साथ हुए इस हादसे के बाद उन्होंने हिम्मत नहीं हारी। वह तालिबानी हुकूमत के आगे नहीं झुकी।

 

 

उन्होंने अपनी शिक्षा जारी रखी और अपने अभियान को और मजबूती से आगे बढ़ाया। मलाला को उनकी इस बहादुरी के लिए दुनियाभर में सम्मानित किया गया। 2014 में उन्हें भारत के कैलाश सत्यार्थी के साथ शांति का नोबेल पुरस्कार दिया गया।

 

 

मलाला यूसुफजई पर बन रही इस फिल्म का नाम ‘गुल मकई’ है।  इस पोस्टर में मलाला युसुफजई के किरदार को हाथ में जलती हुई किताब लिए दिखाया गया है। अमजद खान के निर्देशन में बनी इस फिल्म में मलाला के किरदार में रीम शेख ने निभाया है। इस फि‍ल्‍म की शूट‍िंग कश्‍मीर में हुई है।

 

इसके मोशन पोस्टर में  बैकग्राउंड में कबीर बेदी की आवाज में कहा गया है,’यह तब की बात है जब जिहाद और धर्म के नाम पर तालिबान पाकिस्तान और अफगानिस्तान को तबाह कर रहा था, तभी पाकिस्तान के एक छोटे वे गांव से एक आवाज उठी।’

 

 

एक पाकिस्तानी लड़की की संघर्ष की दास्तां बताती इस फिल्म का जहां कईयों को बेसब्री से इन्तजार रहेगा, वहीं पाकिस्तान के कुछ लोगों को बॉलीवुड का मलाला पर फिल्म बनाना रास नहीं आ रहा है। उन्हें ये बात पच नहीं रही है कि बॉलीवुड कैसे मलाला पर फिल्म बना सकता है। आप खुद ही ट्विटर रिएक्शन देख लीजिए।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

बताया जा रहा है कि फिल्म ‘गुल मकई’ का टीजर जल्द ही रिलीज किया जाएगा। इस फिल्म में दिव्या दत्ता, मुकेश ऋषि, अभिमन्यु सिंह और एजाज खान भी मुख्या भूमिका में नजर आएंगे।

 


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement