Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

यौन शक्ति बढ़ाने के लिए इन आयुर्वेदिक औषधियों का इस्तेमाल करते थे राजा महाराजा

Published on 11 April, 2018 at 5:23 pm By

भारत में राजा-महाराजाओं  को उनके शाही रहन-सहन और ऐशोआराम  के लिए जाना जाता रहा है। बड़े-बड़े महलों में रहने वाले इन राजाओं के शौक भी बड़े खास थे। इतिहास में ऐसी कई कहानियां हैं, जिनसे पता चलता है कि एक-एक राजा की कई रानियां हुआ करती थीं। जाहिर है कि राजा अपने सभी रानियों से शारीरिक संबंध बनाते रहे होंगे।

अब यह सवाल बेहद स्वाभाविक है कि भला राजा अपनी शारीरिक क्षमता को कैसे बनाए रखते थे।


Advertisement

 

 

इसका जवाब छिपा है आयुर्वेद की चमत्कारिक औषधियों में।

 

कहा जाता है कि राजा-महाराजा अपनी यौन शक्ति को बढ़ाने के लिए कुछ खास जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया करते थे। अपनी ताकत को बरकरार रखने के लिए उन्होंने विशेष हकीम और वैद्य रखे थे जो आयुर्वेद के आधार पर उनके लिए खास जड़ी-बूटियों से दवाइयां बनाते थे। इन आयुर्वेदिक औषधियों के सेवन से उन्हें सालों-साल अपनी रानियों के साथ यौन संबंध बनाने में भरपूर मदद मिलती थी। आइये जानते हैं ऐसी ही कुछ खास आयुर्वेदिक औषधियों के बारे में, जिसे आज भी इस्तेमाल किया जा रहा है।

 


शिलाजीत

 


Advertisement

यौन समस्याओं के प्रमुख समाधान के रूप में शिलाजीत का इस्तेमाल आज भी किया जाता है। राजा-महाराजा इसका सेवन अपना पौरुष को बरकरार रखने के लिए किया करते थे। आज के दिनों में यौन से संबंधित समस्याओं के अलावा शिलाजीत कई प्रकार के रोगों के उपचार में भी सहायक है।

इसके इस्तेमाल करने की विधी बेहद सरल है। चावल के दाने के बराबर शिलाजीत को एक चम्मच गाय के घी या शहद के साथ मिलाकर इसका सेवन करना चाहिए। इसके सेवन से कामेच्छा तो बढ़ती ही है। साथ ही ही यह शरीर को कई अन्य प्रकार से लाभ प्रदान करता है।

 

 

अश्वगंधा

 



अश्वगंधा को यौन समस्याओं में सबसे प्रभावी और प्राचीन औषधि माना जाता है। आयुर्वेदिक औषधियों में अश्वगंधा का एक महत्वपूर्ण स्थान है। यह न केवल यौन क्षमता बढ़ाता है, बल्कि कई प्रकार की बीमारियों से भी आपका बचाव करता है। मानसिक और शारीरिक थकान दूर करने के के साथ-साथ शक्तिवर्धक दवाइयां बनाने के लिए भी इसका प्रयोग किया जाता है। इसमें ऐसे गुण मौजूद हैं जो शरीर की उर्जा को बढ़ाते हैं।

 

 

सफेद मूसली

 

सफेद मूसली एक चमत्कारिक गुणों वाली औषधि है। बहुत से बीमारियों के इलाज में सफेद मूसली को राम बाण माना जाता है। यह एक ऐसी शक्तिवर्धक आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है, जिसका इस्तेमाल राजा-महाराजा अपनी कामेच्छा को बढ़ाने के लिए किया करते थे। सफेद मूसली शरीर में नपुंसकता, लो स्पर्म काउंट जैसी  कई कमियों को पूरा करता है। साथ ही शारीरिक शक्ति और उर्जा बढ़ाने में भी सफेद मूसली लाभदायक है। इसकी जड़ों को पीसकर कई प्रकार से इसका सेवन किया जाता है।

 

 

शतावरी

 

शतावरी एक बेहतरीन औषधीय पौधा है। इसे पुरुष और महिलाएं अपनी कामेच्छा बढ़ाने के लिए इस्तेमाल करते है। कई तरह की बीमारियों से बचने के लिए भी इसका सेवन किया जाता है। शतावरी कैंसर, नींद न आना, सिर दर्द जैसी कई बीमारियों में फायदेमंद है। इसके साथ ही यह दूषित पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने में भी मदद करता है।

 

 


Advertisement

नोटः इन आयुर्वेदिक औषधियों का इस्तेमाल किसी योग्य आयुर्वेदिक चिकित्सक के दिशा-निर्देश में करें।

Advertisement

नई कहानियां

मां के बताए कोड वर्ड से बच्ची ने ख़ुद को किडनैप होने से बचाया, हर पैरेंट्स के लिए सीख है ये वाकया

मां के बताए कोड वर्ड से बच्ची ने ख़ुद को किडनैप होने से बचाया, हर पैरेंट्स के लिए सीख है ये वाकया


क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए

क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए


G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!

G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!


Eva Ekeblad: जिनकी आलू से की गई अनोखी खोज ने, कई लोगों का पेट भरा

Eva Ekeblad: जिनकी आलू से की गई अनोखी खोज ने, कई लोगों का पेट भरा


Charles Macintosh ने किया था रेनकोट का आविष्कार, कभी किया करते थे क्लर्क की नौकरी

Charles Macintosh ने किया था रेनकोट का आविष्कार, कभी किया करते थे क्लर्क की नौकरी


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें Blog

नेट पर पॉप्युलर