मध्यप्रदेश में बना देश का पहला ‘हैप्पीनेस विभाग’, जीवन में खुशियां लाने का होगा प्रयास

author image
Updated on 15 Jul, 2016 at 11:04 pm

Advertisement

भूटान से प्रेरित होकर, मध्य प्रदेश की सरकार ने हैप्पीनेस डिपार्टमेंट यानि ‘आनंद विभाग’ का गठन कर दिया है। इसके साथ ही मध्य प्रदेश इस तरह का विभाग बनाने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। यह अवधारणा भूटान में पहले से ही लागू है। वहां हैप्पीनेस इंडेक्स के जरिए लोगों की खुशी नापी जाती है।

इस ख़ास मंत्रालय के लिए प्रस्ताव मुख्यमंत्री शिवराज चौहान द्वारा अप्रैल में रखा गया था।

मंत्रिमंडल की बैठक के बाद चौहान ने संवाददाताओं से बातचीत में बुनियादी जरूरतों रोटी, कपड़ा और मकान के अलावा लोगों को जीवन में आनंदित रहने के लिये कुछ और चीजों की भी आवश्यकता होती है, इस पर अपनी बात रखी और कहा:


Advertisement

“विकास का मापदंड आमतौर पर आर्थिक विकास के तौर पर देखा जाता है, लेकिन इससे जनता की खुशहाली नहीं नापी जा सकती है। प्रतिष्ठा, पद और पैसे के अलावा और भी बहुत कुछ होता है, जो मानव को आनंदित रखने के लिए जरूरी होता है।”

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस नवगठित विभाग के मुखिया होंगे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement