आईपीएल से लखपति बना यह युवा खिलाड़ी बेचता था मूंगफली, बेहद कठिन रहा है इसका बचपन

Updated on 19 Apr, 2018 at 6:50 pm

Advertisement

आईपीएल ने अपने ग्यारह सालों के इतिहास में कई खिलाड़ियों को जमीन से उठाकर बुलंदियों तक पहुंचाया है। युवा खिलाड़ियों को दुनिया के सामने अपनी काबिलियत साबित करने का मंच देने के अलावा आईपीएल खिलाड़ियों के लिए शोहरत व पैसों का एक पिटारा भी खोल देता है। हमारे सामने ऐसे कई खिलाड़ियों के उदाहरण मौजूद हैं जो आईपीएल के बलबूते लखपति बने हैं।

इसी फेहरिस्त में चेन्नई सुपर किंग्स के एक युवा खिलाड़ी का नाम भी शामिल हो चुका है। हम बात कर रहे हैं इसी साल चेन्नई टीम का हिस्सा बने दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी लुंगी नगीदी की। ज्ञात हो कि खिलाड़ियों की नीलामी के दौरान लुंगी को चेन्नई सुपर किंग्स ने 50 लाख रुपये में खरीदा था।

 

 

महज 22 साल की उम्र में यह मुकाम हासिल करने वाले लुंगी का जीवन काफी कठिनाइयों से भरा रहा है। लुंगी की मां दूसरों के घरों में काम किया करती थीं और उसके पिता केयरटेकर का काम करते थे।

हाल ही में लुंगी ने अपने पुराने दिनों को याद करते हुए ट्विटर के जरिए बताया कि एक समय में वह और उसके अन्य भाई सड़क के किनारे बैठ कर मूंगफलियां बेचा करते थे।

 

बेशक लुंगी के दिन फिर चुके हैं और अब उन्हें मूंगफली बेचने की शायद ही कभी जरूरत पड़े। इसी साल की शुरुआत में भारत के दक्षिण अफ्रीकी दौरे के दूसरे टेस्ट मैच से अपना टेस्ट करियर शुरू करने वाले नगीदी ने उस मुकाबले में 39 रन देते हुए 6 विकेट हासिल किए थे। उनके इस प्रदर्शन की बदौलत दक्षिण अफ्रीका वह मुकाबला जीतने में सफल रहा था।


Advertisement

 

भारत के खिलाफ उस मुकाबले में दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में शुमार विराट कोहली का विकेट हासिल करने के बाद लुंगी काफी भावुक हो उठे थे।

शायद उस वक्त उन्हें नहीं पता था कि इसी दमदार प्रदर्शन की बदौलत उन्हें जल्द ही आईपीएल में जगह मिलने वाली है।

 

 

साल 2015 में दक्षिण अफ्रीका की ओर से एक टी-20 खिलाड़ी के रूप में अपना अंतर्राष्ट्रीय करियर शुरू करने वाले नगीदी काफी समय तक अपनी चोट से भी परेशान रहे। लेकिन जल्द ही चोट से उबरते हुए उन्होनें अंतर्राष्ट्रीय मंच में खुद को साबित करते हुए ऐसा मुकाम हासिल कर लिया है जो उन्हें एक बेहतर जिंदगी की ओर लेकर जाएगा।

 

 

अपने पिता की असमय मौत के चलते लुंगी को आईपीएल बीच में छोड़ वापस अपने घर जाना पड़ा है। हमें उम्मीद है कि आने वाले समय में लुंगी क्रिकेट इतिहास में अपनी और भी गहरी छाप छोड़ेंगे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement