चोरों ने दो लोगों को बंदी बनाकर लूटी तिजोरी, ताला तोड़ा तो निकला सौ रूपए का बस एक नोट

9:26 am 2 Mar, 2018

Advertisement

आपराधिक घटनाएं दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही हैं। इस पर काबू करने की जरूरत महसूस की जा रही है। अक्सर अखबारों के पन्ने ऐसी घटनाओं से भरे होते हैं। कई घटनाएं ह्रदय विदारक होती हैं, तो कुछ बेहद दिलचस्प। आइये एक ऐसी ही आपराधिक घटना के बारे में आपको बताते हैं, जिसमें चोरों ने मेहनत तो की, लेकिन हाथ आए मात्र सौ रुपये!

 

बेंगलुरू के मिलर्स रोड स्थित बिज़नेसमैन भाटिया के घर वारदात चोरी की वारदात हुई।

 


Advertisement

बिजनेसमैन की तिजोरी में अकूत गहने, कैश मिलने की सम्भावना से चोरों ने खूब जोर लगाया, लेकिन मुंह की खानी पड़ी। उन्होंने सोचा था कि तिजोरी हाथ लगते ही वे मालामाल हो जाएंगे, लेकिन जब तिजोरी खोली तो मुंह खुले के खुले रह गए। दरअसल, ये वारदात 20 फरवरी को हुई, जिसमें चोरों ने घर के दो नौकरों को बंदी बनाकर वारदात को अंजाम दिया।

 

चोरों की एक 25 किलो की तिजोरी पर नज़र पड़ते ही वो उसे खोलने में जी जान से लग गए। लेकिन लाख कोशिश के बावजूद तिजोरी खोल न पाए तो भाटिया की कार से उसे साथ ले गए। दिलचस्प ये है कि उस तिजोरी में मात्र सौ रुपये थे। इतने बड़ी तिजोरी की चोरी और हाथ आए सौ रुपये से चोरों के पैरों तले जमीन खिसक गई।



 

 

हालिया रिपोर्ट के अनुसार, दो चोर पकड़े भी गए हैं और बाकी की तलाश की जा रही है। ध्यान देने की बात ये हैं कि ऐसी घटना को अंजाम देने की आखिर चोरों की हिम्मत कैसे हुई। पुलिस-प्रशासन की ये नाकामी ही कही जा सकती है।

 

blogspot


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement