इंसान को अपनी जिन्दगी में कम से कम एक बार अकेले रहकर जरूर देखना चाहिए

author image
Updated on 25 Apr, 2017 at 2:34 pm

Advertisement

क्या आप खुद को एक आत्मनिर्भर और सक्षम वयस्क के रूप में देखते हैं, जो अपनी ही नहीं, दूसरों की भी सहायता करने में सक्षम है? आज नहीं तो कल, हम निश्चित तौर पर अपने माता-पिता व अन्य बड़ों की तरह स्वयं सक्षम जरूर बन जाएंगे। हां, जिन्दगी आपको किसी न किसी रूप में बड़े हो जाने पर मजबूर करेगी। लेकिन कभी आपने सोचा है कि इस ‘बड़े’ होने की दौड़ में हम कभी खुद को अकेला नहीं पाते हैं?

हम भले ही अपने घर से दूर, दूसरे शहर में रहते हों, लेकिन फिर भी हम कभी भी पूरी तरह से अकेले नहीं होते हैं। हम अपने रिश्तेदारों या सहपाठियों के साथ छात्रालयों में रहते हैं।

क्या आप जानते हैं कि अकेले रहने के अपने कुछ अलग ही फ़ायदे हैं। हर इंसान को अपनी ज़िन्दगी में कम से कम एक बार बिल्कुल अकेले रहकर देखना चाहिए, क्योंकिः

1. सही मायने में पहली बार आपको निजी माहौल (पर्सनल स्पेस) का अहसास होगा।

आप बेशक अपने कमरे का दरवाज़ा बंद करके उसे अपनी छोटी सी निजी दुनिया का नाम दे सकते हैं। लेकिन एक पूरे बड़े घर को अपनी पर्सनल स्पेस कह पाना बिल्कुल अलग ही खेल है।

imujer हां, जहां तक मेरी नजर जाती है, सब कुछ मेरा है!

imujer
हां, जहां तक मेरी नजर जाती है, सब कुछ मेरा है!

2. आप पूरी तरह से खुद के लिए जिम्मेदार हैं।

जिम्मेदारी आपकी सोच से कहीं अधिक मजेदार है। यही नहीं, इस तरह आप ख़ुद को और बेहतर ढंग से समझ सकेंगे। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि असल में आप कितने सफाई-पसंद हैं!


Advertisement
asset-cache अरे हां, वे कोने वाले जाले साफ करना मत भूलना।

asset-cache
अरे हां, वे कोने वाले जाले साफ करना मत भूलना।

3. अधिक संतुष्ट रहेंगे।

आप जल्दी ही सीख जाएंगे कि अगर सब्जी अच्छी नहीं बनी, बिस्तर आरामदेह नहीं हुआ या रसोई पूरी तरह साफ नहीं हुई, तो खुद को कैसे संतुष्ट रखना है। क्योंकि अब आप उन चीज़ों की कीमत समझने लगे हैंं, जो पहले आपको हमेशा ही अच्छी हालत में मिलती थीं।

4. आप कुछ भी अपने आप होने का इंतजार नहीं करते।

अब आप मम्मी के पानी का हाथ में थमाने या पापा के इंटरनेट ठीक करने का इंतजार नहीं करते हैं। अगर आपको कुछ चाहिए होता है, तो आप अपनी जरूरत को स्वयं ही पूरा कर लेते हैं।

ninjamonkeys स्पार्टा...।

ninjamonkeys
स्पार्टा…।

5. खरीदारी करना सीखते हैं।

अगर आपको लगता है कि चीजें खरीदते हुए रेट में मोल-भाव करने में आप अच्छे हैं, तो जल्दी ही इस कला में आप बिल्कुल पारंगत हो जाएंगे। यही नहीं, आप सीखेंगे कि कौन सा सामान जल्दी खराब होता है और उसी हिसाब से क्या-क्या खरीदना है।

ndtvimg आज मैं सब कुछ खरीद लूंगी।

ndtvimg
आज मैं सब कुछ खरीद लूंगी।

6. क्या चाहिए और क्या नहीं?

आटे की बड़ी सी बोरी? शायद यह आपको चाहिए ही नहीं थी। वह बेकार पड़ी हुई लिपस्टिक, नया कंडीशनर, नया मोबाइल, ज़्यादा मिठाई? आपको समझ आएगा कि किस चीज़ कि सबसे अधिक जरूरत है। क्या चाहिए और आप क्या छोड़ सकते हैं। और यह आत्म-नियंत्रण आपकी असली जीत है।

7. अपने डर का सामना करते हैं।

क्या बगल में कोई कॉकरोच, मकड़ी या छिपकली है? चलो, गार्ड को बुलाते हैं। रुकिए, मजाक कर रहे थे। डर का कोई इलाज नहीं है, आपको उसका सामना करना ही पड़ेगा।

8. पैसे की कीमत समझने लगेंगे।

मजाक नहीं कर रहे हैं। सबसे पहले तो आप पैसा कमाना सीखेंगे। फिर जानेंगे कि आपको क्या चाहिए और उसी के अनुसार आप पैसा बचाना शुरू करेंगे। शायद आप ज़्यादा कमाने के लिए भी प्रेरित हो जाएं।

huffpost क्या पैसा-पैसा करती है?

huffpost
क्या पैसा-पैसा करती है?

9. समय की अपनी कीमत होती है।

आप गुजरते समय को समझना शुरु करेंगे कि कैसे मिनट से घंटे, घंटे से सप्ताह और सप्ताह से महीने बीत जाते हैं। जब आप समय, पैसे और मेहनत के रूप में अपने रहने का किराया देना, अपने काम करना और अपने होने की कीमत चुकाना शुरू करते हैं, तभी ज़िन्दगी में हर चीज़ का मूल्य समझ पाते हैं।

topyaps बुधवार की दोपहर में धीमा और रविवार की दोपहर में फर्राटा दौड़!

topyaps
बुधवार की दोपहर में धीमा और रविवार की दोपहर में फर्राटा दौड़!

10. रूममेट नहीं होने से घर ज़्यादा साफ़ रहेगा।

सच मानिए, यह एक अंजान इंसान के साथ रहने से बेहतर ही है। आपका घर कम से कम आपको तो ज्यादा साफ-सुथरा ही लगेगा। आपको इतना तो संतोष होगा कि घर में चारों ओर घूम रहे बाल आपके ही हैं और रसोई-घर से आ रही बदबू आपके खाने से निकली है।

11. पूरी आज़ादी

यह पूरी जगह आपकी है, जो मन चाहे वह करें। तेज आवाज में गाने बजाओ। जब मन चाहें बजाओ। मूवीज देखो। खाने में जो अच्छा लगे, वह बनाओ। शीशे के आगे नंगे हो कर नाचो या कितना भी तेज पंखा चलाओ। मजे करो।

12. पार्टी के लिए समय और जगह

अपने दोस्तों के साथ पार्टी आप किसी भी समय खुद अपने घर पर रख सकते हैं।

topyaps लेकिन गुरुवार कोई मांस नहीं खाएगा।

topyaps
लेकिन गुरुवार कोई मांस नहीं खाएगा।

13. आप खुद को असल में जानेंगे।

सबसे जरूरी बात है कि आप खुद को शायद पहली बार अच्छे से जान पाएंगे। आपके मन में अपने बारे में जो भी भ्रम हैं, वे छूमंतर हो जाएंगे और आप असल में स्वयं को जान सकेंगे।

क्या आप कभी बिल्कुल अकेले रहे हैं? अपना अनुभव हमें भी बताएं।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement