7 साल की इस बच्ची ने Google से मांगी नौकरी, सीईओ पिचाई ने दिया ‘प्यारा’ जवाब

author image
9:54 pm 16 Feb, 2017

Advertisement

सात साल की उम्र में जहां बच्चे सपने सजोना शुरू ही करते हैं, वहां इस 7 साल की बच्ची ने दुनिया की बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनियों में शुमार गूगल में नौकरी करने की इच्छा जाहिर की है।

girl

 

इंग्लैंड की रहने वाली क्लोई ब्रिजवॉटर नाम की इस बच्ची ने गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई को पत्र लिख कर बताया कि वह क्यों गूगल में काम करने की इच्छुक है।

letter

क्लोई ने खुद को एक अच्छा एम्प्लॉई बताते हुए पत्र में लिखा है-

डियर गूगल बॉस

मेरा नाम क्लोई है और जब में बड़ी हो जाउंगी तो मैं गूगल में जॉब चाहती हूं। मैं चॉकलेट फैक्टरी और ओलिंपिक में तैराकी भी करना चाहती हूं। मेरे पापा ने बताया कि गूगल में, मैं बीन बैग्स में बैठ सकती हूं और इलेक्ट्रिक गाड़ी में घूम सकती हूं। मुझे कंप्यूटर पसंद है। मेरे पास एक टैबलेट भी है। मेरे पापा ने मुझे एक गेम दिया है जिसमें मुझे रोबॉट चलाना होता है। पापा ने कहा कि वह मुझे कंप्यूटर भी देंगे। मैं 7 साल की हूं और मेरे टीचर्स ने मम्मी से कहा है कि मैं पढ़ने में अच्छी हूं। पापा कहते हैं कि अगर मैं पढ़ने में अच्छी रही तो मुझे एक दिन गूगल में जॉब मिल सकती है। मेरा लेटर पढ़ने के लिए थैंक्यू। मैंने केवल एक बार ही लेटर भेजा है वह भी पापा को क्रिसमस पर।

गुड बाय

क्लोई ब्रिजवॉटर


Advertisement

 

फिर क्या, इस बच्ची के खत का जवाब खुद गूगल के सीईओ सुन्दर पिचाई ने दिया।

ceo

 

सुंदर पिचाई ने जवाब देते हुए लिखा-

डियर  क्लोई

आपके पत्र के लिए बहुत शुक्रिया। मैं खुश हूं कि आपको कंप्यूटर और रोबोट्स अच्छे लगते हैं। मुझे उम्मीद है कि आप टेक्नोलॉजी के बारे में पढ़ती रहोगी। मुझे उम्मीद है कि आप कड़ी मेहनत करोगी और अपने सपने पूरे करोगी। आप हर वो चीज हासिल कर सकती हो, जो आपने सोच रखी है। गूगल में काम करने से लेकर ओलंपिक में स्वीमिंग भी कर लोगी। आपका स्कूल खत्म होने के बाद मैं आपके नौकरी के आवेदन का इंतजार करुंगा। 🙂

आपको और आपके परिवार को ढेर सारी शुभकामनाएं।

ceo

दरअसल, क्लोई ने गूगल के दफ्तरों की तस्वीरें देखी हुई थी। जहां उसे बीन बैग, गो-कार्ट और स्लाइड दिखाई दी। मासूम दिल की क्लोई ने ऐसे ही जगह पर काम करने की अपनी ख्वाहिश अपने पिता को बताई और जिद्द कर अपने पिता की मदद से यह खत लिख दिया।

क्लोई के पिता के लिए ये किसी हैरानी से कम नहीं है कि गूगल के सीईओ ने खुद इस चिट्ठी का जवाब दिया। उन्होंने लिंक्डइन पर गूगल के सीईओ द्वारा मिले इस पत्र को साझा करते हुए लिखा-

“मैं इतने व्यस्त व्यक्ति का कितना भी शुक्रगुज़ार हूं, कम है, जिन्होंने एक नन्ही बच्ची के सपने को एक कदम आगे ले जाने का वक्त निकाला… हालांकि, मुझे पक्का नहीं पता कि क्लोई को जानकारी है भी या नहीं कि गूगल में काम करने के लिए गो-कार्टिंग के अलावा भी काफी कुछ करना होता है…”

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement