नशे के लिए खुद को कोबरा से डसवाता था यह शख्स, बेहोश होने पर खुली पोल

author image
Updated on 9 Aug, 2017 at 2:58 pm

Advertisement

बिहार में शराब पर पूरी तरह से प्रतिबन्ध लगने के बाद नशे के आदि लोग नशा लेने के लिए अलग-अलग हथकंडे अपना रहे हैं। अभी जो एक मामला सामने आया है उसे जानकर आप भी हैरत में पड़ जाएंगे।

बिहार के समस्तीपुर के 35 वर्षीय राणा तपेश्वर सिंह उर्फ़ ललन सिंह को करीब पिछले 35 सालों से शराब पीने की लत थी। जब बिहार में शराबबंदी का निर्देश आया, तो उनके लिए यह निर्देश कई लती लोगों की तरह जी का जंजाल बन गया। शराबबंदी के बाद नशे की तलब पूरी करने में उन्हें परेशानी होने लगी।

cobra

तपेश्वर सिंह eenaduindia

शराब मिलनी बंद हो गई तो राणा ने नशे के लिए कोबरा सांप पाल लिया। उन्होंने एक संपेरे से कोबरा सांप को खरीदा। अपने घर के पास बने एक झोपड़ी में उन्होंने जहरीले कोबरा को एक प्लास्टिक के डब्बे में बंद कर रखा था।

जब उन्हें नशे की तलब लगती थी वह अपनी एक ऊंगली डब्बे में डालते थे और कोबरा उन्हें एक बार डंस लेता था। ऐसा करने से उन्हें एक बोतल विदेशी शराब के बराबर नशे की अनुभूति होती थी और वह दो दिनों तक नशे की हालत में ही बेसुध रहते थे। वह चोरी-छुपे यह काम वह कई महीनों से कर रहे थे।

राणा की इस करतूत के बारे में घर के लोगों को भी कोई जानकारी नहीं थी। उन्हें लगता था कि वह कहीं से चोरी छुपे शराब खरीद कर पीते हैं।

परिवारवालों को इसकी भनक तब लगी जब एक दिन कोबरा ने उन्हें ज्यादा काट दिया। इसके बाद राणा की हालत बिगड़ने लगी। वह बेहोश हो गए और मुंह से झाग निकलने लगा। उन्हें सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। 12 घंटे तक लगातार 18 वाइल सर्पदंश की दवा उन्हें दी गयी, तब जाकर उनकी सेहत में सुधार हुआ।अब राणा घर पहुंच चुके हैं। घरवालों ने सांप को मारकर फेंक दिया है।

ये हैरत की बात है कि लोग किस कदर नशे की लत के आदी हैं। यह शुक्र की बात है कि खतरनाक कोबरा से खुद को कई महीनों तक डंसवाने के बावजूद भी यह शख्स जिन्दा रहा।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement