शिक्षक भर्ती परीक्षा में जाति को लेकर पूछा गया ऐसा सवाल, जिसपर मच गया है बवाल

Updated on 16 Oct, 2018 at 6:50 pm

Advertisement

शनिवार को दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड’ ने शिक्षकों की भर्ती के लिए एंट्रेस परीक्षा आयोजित की थी। इस परीक्षा में जाती को लेकर एक ऐसा सवाल पूछा गया जिसके चलते अब हर कहीं बवाल मच गया है। 13 अक्टूबर को आयोजित हुई इस परीक्षा के बाद ‘डीएसएसएसबी’ की लोग जमकर निंदा कर रहे हैं।

दिल्ली डीएसएसएसबी’ की परीक्षा में छात्रों से सवाल पूछा गया अगर पंडित की पत्नी को पंडिताइन कहते हैं तो अनुसूचित जाति के लिए इस्तेमाल होने वाले शब्द के अपोजिट पत्नी को क्या कहा जाएगा?

 

 

जैसे ही छात्रों के सामने ये सवाल आया उन्होंने इसपर आपत्ति जताई। छात्रों ने सवाल उठाते हुए कहा किसी समुदाय या जाति विशेष पर सवाल पूछकर सरकार क्या साबित करना चाहती है।

 

छात्रों का आरोप है  इस तरह के सवाल पूछकर ‘DSSSB’ शिक्षकों को गलत सीख तो दे ही रहा है साथ ही इससे देश का माहौल भी खराब हो सकता है। एग्ज़ाम पेपर में आपत्तिजनक जातिसूचक शब्द के इस्तेमाल होने से लोगों में खासी नाराज़गी है ।

 


Advertisement

 

इस बारे में जब सोशल मीडिया पर छात्रों को पता चला तो वहां भी उनका गुस्सा फूट पड़ा। एक यूजर ने लिखा- ‘ ऐसे सवाल पूछ कर कौन से टाइप के टीचर बनाना चाहते हैं ?

 

 

इतना ही नहीं छात्रों ने दिल्ली सरकार सहित केजरीवाल पर भी निशाना साधा। वहीं कई लोगों ने कहा ऐसे सवाल परीक्षा में पूछना अपराध है और समुदाय की एक जाति के लिए अपमानजनक भी। ऐसे में इस मामले की गहनता से जांच होनी चाहिए।

बता दें डीएसएसएसबी दिल्ली के विभिन्न नगर निगम, राष्ट्रीय राजधानी में एमसीडी स्कूलों में कुल 4,366 पीआरटी पदों की भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन कर रहा है। इस बीच एग्ज़ाम पेपर में आपत्तिजनक जातिसूचक शब्द के इस्तेमाल होने से लोगों में खासी नाराज़गी है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement