Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

कोलकाता शहर के बारे में 25 बातें जो शायद आपको अब तक नहीं पता

Updated on 26 February, 2016 at 11:50 am By

आप कभी कोलकाता गए हैं? कोलकाता अपने आप में एक इतिहास को समेटे हुए है। करीब 400 साल पुराने इस शहर के बारे में हम जो कुछ भी बताने जा रहे हैं, उनके बारे में आपको शायद ही पता होगा।

1. क्षेत्रफल के मामले में नई दिल्ली के बाद कोलकाता दूसरा सबसे बड़ा शहर है।


Advertisement

2. ब्रिटिश राज के समय लंदन के बाद कोलकाता दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण शहर था। यह शहर भारत की राजधानी भी रहा है।

3. इस शहर को सिटी ऑफ ज्वॉय तो कहा ही जाता है। साथ ही इसे सिटी ऑफ पैलेसेज, सिटी ऑफ प्रोसेसन्स और कल्चरल कैपिटल ऑफ इन्डिया भी कहा जाता है।

4. यात्रियों के मामले में हावड़ा स्टेशन देश के किसी भी अन्य ट्रेन स्टेशन की तुलना में अधिक व्यस्त है।

5. कोलकाता शहर में वर्ष 2006 तक कोलकाता नामक ट्रेन स्टेशन नहीं हुआ करता था। यहां दो ही स्टेशन थे, हावड़ा और सियालदह। लेकिन बाद में उत्तर कोलकाता के श्यामबाजार इलाके में एक स्टेशन बना। नाम है कोलकाता।

6. कलकतिया लोग भले ही यहां के चिड़ियाखाना को पसन्द नहीं करते, लेकिन सच बात तो यह है कि यह चिड़ियाखाना देश का सबसे पुराना चिड़ियाखाना है।

7. हावड़ा ब्रिज कोलकाता शहर की पहचान है। इस तरह का पुल देश में अन्यत्र कहीं नहीं है।


Advertisement

8. कोलकाता ने देश को पांच नोबेल पुरस्कार प्राप्त विद्वान दिए हैं। उनके नाम हैं सर रोनाल्ड रॉस, सीवी रमण, रवीन्द्रनाथ टैगोर, आमर्त्य सेन और मदर टेरेसा। सत्यजीत रे को विश्व सिनेमा में उनके योगदान के लिए ऑस्कर अवार्ड से नवाजा गया था।

9. कोलकाता में स्थित नेशनल लाइब्रेरी देश की सबसे बड़ा पब्लिक लाइब्रेरी है।

10. कैलकटा पोलो क्लब दुनिया का सबसे पुराना पोलो क्लब है।

11. यही नहीं, रॉयल कैलकटा गोल्फ क्लब इंग्लैंड के बाहर अपनी तरह का पहला गोल्फ क्लब है।

12. अगर आप क्रिकेट देखना पसन्द करते हैं तो आपको पता रहना चाहिए कि सीट के लिहाज से ईडन गार्डन दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम है।

13. इसी तरह, कैलकटा क्रिकेट एन्ड फुटबॉल क्लब दुनिया का दूसरा सबसे पुराना क्रिकेट क्लब है।



14. 1898 में शुरू किया गया कैलकटा फुटबॉल लीग दुनिया का दूसरा सबसे पुराना फुटबॉल टूर्नामेन्ट है।

15. भारत में अब तक भले ही फुटबॉल विश्वकप का आयोजन नहीं हुआ है, लेकिन कोलकाता का साल्टलेक स्टेडियम इस तरह के आयोजन के लिए सक्षम है। यह सिटिंग अरेन्जमेन्ट के लिहाज से दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा फुटबॉल स्टेडियम है।

16. कोलकाता को पुस्तक-प्रेमियों का स्वर्ग माना जाता है। जी हां, कॉलेज स्ट्रीट बुक मार्केट में आपको दुनिया की सभी किताबें मिल सकती हैं। अगर यहां नही मिली तो समझिए कि वह किताब अस्तित्व में ही नहीं है।

17. कोलकाता दुनिया के उन चन्द शहरों में है, जहां अब भी ट्राम चलते हैं।

18. कहावत है कि कोलकाता जो आज सोचता है, बाकी देश कल सोचेगा। यह सच भी है। पहली बार मेट्रो ट्रेन कोलकाता में ही दौड़ी थी।

19. कोलकाता में अब भी हाथ से खींचे जाने वाले रिक्शे का चलन है।

20. बॉटेनिकल गार्डेन अपने उस बरगद के पेड़ लिए प्रसिद्ध है, जो 330 मीटर के दायरे में फैला हुआ है।

21. कोलकाता भले ही मंदिरों और महलों का शहर हो, लेकिन यहां का बिड़ला प्लेनेटेरियम एशिया का सबसे बड़ा और दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा प्लेनेटेरियम है।

22. शहर के चौरंगी रोड पर स्थित यूएस काउन्सलेट की स्थापना 19 नवम्बर, 1792 को की गई थी। यह अमेरिका विदेश विभाग का दूसरा सबसे पुराना दफ्तर है।

23. फ्रैंकफर्ट पुस्तक मेला और लंदन पुस्तक मेला के बाद नम्बर आता है कोलकाता पुस्तक मेला का। इस आयोजन को एशिया का सबसे बड़ा पुस्तक मेला कहा जाता है।

24. यही नहीं, कोलकाता बुक फेयर को दुनिया का सबसे नॉन-ट्रेड बुक फेयर कहा जाता है।

25. खिदिरपुर पोर्ट दुनिया का सबसे पुराना पोर्ट है।


Advertisement

Advertisement

नई कहानियां

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!


जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका

जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका


प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें

प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें


ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं

ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं


Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं

Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें Culture

नेट पर पॉप्युलर