भारतीय सेना की वीरता और बलिदान को समर्पित है लेह का यह संग्रहालय

author image
Updated on 23 Sep, 2016 at 5:13 pm

Advertisement

भारतीय सेना के बलिदान, वीरता, सेना के विभिन्न अभियानों की उपलब्धियां समेटे लेह का संग्रहालय ‘हॉल ऑफ़ फेम’ एशिया के सर्वक्षेष्ठ 25 संग्रहालयों की सूची में शामिल हो गया है। यह संग्रहालय देश के पांच संग्रहालयों में सबसे शीर्ष है।

यह सूची विश्वभर के यात्रियों की राय के आधार पर ट्रिप एडवाइजर द्वारा बनाई गई है।

उधमपुर में उत्तरी कमान के मुख्यालय पर तैनात रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल एसडी गोस्वामी का कहना है कि पिछले तीन दशकों से लगातार ‘हॉल ऑफ फेम’ लेह में आने वाले स्थानीय और विदेश पर्यटकों का प्रमुख केंद्र बनकर क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा दे रहा है।

हर साल इस संग्रहालय में करीबन डेढ़ लाख पर्यटक आते हैं।

1986 में स्थापित किया गया ‘हॉल ऑफ़ फेम’ सेना के जवानों को समर्पित है, जिसमें कारगिल, सियाचिन व ग्लेशियर में पाकिस्तान से हुए युद्ध, भारतीय सेना की उपलब्धियों के साथ-साथ क्षेत्र की कला एवं संस्कृति को बखूबी संजोया गया है।

हाल ही में ‘हॉल ऑफ़ फेम’ के परिसर का विस्तार कर इसमें युद्ध स्मारक के साथ वार सीमेट्री, एडवेंचर पार्क बनाकर, इसे देशवासियों को समर्पित किया गया।


Advertisement

इस संग्रहालय का उद्देश्य लोगों, खासकर युवा पीढ़ी को सेना की वीरता से अवगत करा देशवासियों में देशभक्ति की भावना को बढ़ावा देना है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement