फेसबुक पर परवान चढ़ा प्यार, लव मैरिज के 6 माह बाद सूटकेस में मिली लड़की की लाश

Updated on 12 Apr, 2018 at 4:20 pm

Advertisement

देश की राजधानी दिल्ली के समीप ग्रेटर नोएडा क्षेत्र से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां गाजियाबाद के कनवानी नाले के पास सूटकेस में चार दिन से लापता नवविवाहिता का शव पाया गया है। शुरुआती जांच के बाद पुलिस ने नवविवाहिता के पति को हिरासत में ले लिया है। फिलहाल इस मामले में दहेज़ के लिए ह्त्या किए जाने की शंका व्यक्त की जा रही है।

आइए इस मामले से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं पर एक नजर डालते हैं।

 

मृतका माला बीते 7 अप्रैल की रात संदिग्ध रूप से लापता हुई थी।

पति शिवम ने 8 अप्रैल, शनिवार की दोपहर बिसरख थाने में पत्नी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई। मंगलवार रात साढ़े नौ बजे गाजियाबाद के इंदिरापुरम थाना पुलिस को कनवानी के समीप सूटकेस में बंद शव मिला। जिसके बाद आसपास के जिले की पुलिस को सूचना दी गई।

युवती के परिजनों ने सूटकेस व शव के पैर पर बंधे काले धागे एवं पायल के आधार पर शव की शिनाख्त की। ज्ञात हो कि जिस सूटकेस में शव पाया गया है वह मृतका के परिजनों के द्वारा ही शादी के समय उपहार स्वरूप दिया गया था।

 

परिजनों ने मृतका के पति व सास-ससुर समेत ससुराल के अन्य लोगों के खिलाफ दहेज़ की लालच में ह्त्या की रिपोर्ट दर्ज करवाई है। इसके बाद पति शिवम को पुलिस के द्वारा हिरासत में ले लिया गया।

पुलिस के अनुसार मृतका का नाम माला है। वह मूल रूप से गाजियाबाद की रहने वाली थी, लेकिन पिछले कुछ समय से बिसरख के हैबतपुर में रह रही थी।

नवंबर 2017 में माला ने नोएडा सेक्टर 18 स्थित डीएलएफ मॉल में एक गारमेंट शॉप पर काम करने वाले शिवम से लव मैरिज की थी।


Advertisement

 

शिवम ने फेसबुक के जरिए माला से दोस्ती की थी। बाद में यह दोस्ती प्यार में तब्दील हो गई।

शिवम व माला के जिद करने पर दोनों के घरवालों ने 1 नवंबर, 2017 में इनकी शादी करवा दी थी। फिलहाल मृतका चार माह के गर्भ से थी।

यह हैं जांच के प्रमुख पहलू

 

 

माला के लापता होने वाले दिन पति शिवम डीएलएफ मॉल स्थित स्टोर में काम करने गया हुआ था। इस बात की पुष्टि स्टोर के मैनेजर के द्वारा भी की गई है। मैनेजर के अनुसार शिवम शनिवार की सुबह 11 बजे काम पर पहुंचा और रात 9 बजे वहां से निकला।

पुलिस के अनुसार 8 अप्रैल की दोपहर शिवम बेहद जल्दबाजी में गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखवाना चाहता था, जिससे पुलिस को संदेह हुआ।

हालांकि शिवम ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि वह निर्दोष है एवं उसे इस मामले में फसाया जा रहा है।

युवती के पिता ने लगाए ससुराल वालों पर ऐसे आरोप

माला के पिता राम अवतार का कहना है कि लड़की की शादी काफी दहेज़ देकर की गई थी। इसके बावजूद ससुराल वाले 5 लाख रूपए और गाड़ी की मांग कर रहे थे। मांग पूरी न होने पर लड़की की ह्त्या कर दी गई।

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement