सेलेक्ट नहीं होने पर आत्महत्या करना चाहता था यह क्रिकेटर!

Updated on 12 Nov, 2017 at 3:57 pm

Advertisement

टीम इंडिया के गेन्दबाज कुलदीप यादव ने एक बड़ा खुलासा किया है। दरअसल, यादव ने एक साक्षात्कार में पुराने दिनों की यादें ताजा की हैं।

साक्षात्कार में यादव ने कहा कि जब वह 13 साल के थे तब अंडर-15 टीम के साथ खेलना चाहते थे। हालांकि, उन्हें तब टीम में जगह नहीं मिल सकी थी। इस घटना को लेकर वह इतने हताश हो गए थे कि उन्होंने आत्महत्या करने के बारे में सोचना शुरू कर दिया।

आलम यह था कि वह फिर कभी क्रिकेट नहीं खेलना चाहते थे। कुलदीप के मुताबिक, अंडर-15 टीम में सेलेक्ट होने के लिए उन्होंने जी-तोड़ मेहनत की थी, लेकिन उनका सेलेक्शन नहीं हो सका था।


Advertisement

इसी साक्षात्कार में कुलदीप ने बताया कि स्कूल के दिनों वह बस मजे के लिए क्रिकेट खेला करते थे। हालांकि, उनके पिता कुछ और ही चाहते थे। पिता का कहना था कि कुलदीप को अपने खेल को आगे बढ़ाना चाहिए। यही वजह है कि उन्होंने कुलदीप से कहा कि वह क्रिकेट के लिए गंभीरता से बकायदा कोचिंग करे। कुलदीप को लगता था कि वह एक तेज गेन्दबाज बनेंगे, लेकिन कोच ने उन्हें स्पिन पर अपना ध्यान केन्द्रित करने के लिए कहा।

कुलदीप का कहना है कि वह वसीम अकरम और शेन वार्न के फैन हैं।

मामला चाहे जो भी हो, इन दिनों कुलदीप यादव अपनी गेन्दबाजी की वजह से सुर्खियों में रह रहे हैं। उनकी गेन्दबाजी बेहतर है, यही वजह है कि वह टीम के सभी फॉर्मेट में खेल रहे हैं। वह अपनी अब तक की गेन्दबाजी से सभी को प्रभावित करने में कामयाब रहे हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement