Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

इस वंडर किड ने महज 8 की उम्र में ज्वाइन कर ली थी नासा, 15 साल में PHD

Published on 12 September, 2018 at 12:07 pm By

दुनिया में ऐसे लोग भी हैं जो अतिरिक्त दिमागी शक्ति से परिपूर्ण हैं। अमूमन ऐसे लोगों को बचपन में ही पहचाना जा सकता है। साउथ कोरिया के किम उंग योंग को माता-पिता ने जब बेहद बुद्धिमान पाया तो वे उसे आगे सीखने में मदद करने लगे। वंडर किड किम बचपन से ही किताबों में डूबे रहते थे। ये बेहद चौंकाने वाला रहा कि उन्होंने महज 1 साल की उम्र में 2 भाषाओं का ज्ञान हासिल कर लिया।


Advertisement

 

वंडर किड किम को दुनिया के सबसे बुद्धिमान लोगों में शुमार किया गया है!

 

 

इनका जन्म 8 मार्च 1962 को साउथ कोरिया में हुआ था। उनके माता-पिता पढ़े-लिखे थे। किम ने कोरियन और चीनी भाषा को सीखकर उन्हें भी चौंका दिया था। उन्होंने ये भाषाएं बिना किसी की सहायता से सीखी थी। कुछ ही दिनों में इनके माता-पिता ये समझ गए कि किम आम बच्चों से बहुत ही तेज है, लिहाजा उसे उसी तरीके से मदद करने में जुट गए।

 

 



जानकर हैरानी होगी कि 3 साल की उम्र में किम ने कॉलेज जाने का निर्णय लिया जब बच्चे प्री-स्कूल में जाते हैं। उनके दिमाग का टेस्ट लिया गया तो पाया गया कि वे 3 साल की उम्र में ही कॉलेज जाने योग्य हैं। जब वे 4 साल के थे तो आईक्यू टेस्ट लिया गया और उन्हें 210 अंक मिले। यही कारण रहा कि गिनीज़ बुक ऑफ रिकार्ड में उन्हें सबसे ज्यादा आईक्यू वाले बच्चे के रूप में सम्मिलित किया गया। 8 साल की उम्र में किम ने न्यूक्लियर फिजिक्स में मास्टर डिग्री हासिल की और नासा से जुड़ गए। इन्होंने लगभग 10 साल नासा में काम किया।


Advertisement

 

 

ये बात सोचने के लिए मजबूर करती है कि किम को खुद लगने लगा कि वे ज्ञान का पिटारा और एक मशीन से ज्यादा कुछ नहीं हैं। लिहाजा उनका जीवन भी कुछ उसी तरीके का बन गया था। उनका न कोई दोस्त बन सका और न ही वे समाज से जुड़े रह सके। आम जिंदगी से जुड़ने के लिए वे नासा की नौकरी छोड़ साउथ कोरिया वापस आ गए। देश लौटने पर उन्हें मजाक का पात्र बनना पड़ा। लोगों ने उनके इस निर्णय पर अजीब प्रतिक्रियाएं दी। यहां तक कि उन्हें नौकरी खोजने में भी परेशानी का सामना करना पड़ा।

 

 


Advertisement

50 साल उम्र में उन्होंने साउथ कोरिया के एक कॉलेज में प्रोफेसर की नौकरी हासिल की। अब वे आम जिंदगी जी रहे हैं और खुशियां हासिल कर रहे हैं।

Advertisement

नई कहानियां

जानिए क्या है वास्तु शास्त्र, इसका महत्व और इतिहास

जानिए क्या है वास्तु शास्त्र, इसका महत्व और इतिहास


जामिनी रॉय: एक ऐसा महान चित्रकार, जिन्होंने चित्रकारी को दिया नया आयाम

जामिनी रॉय: एक ऐसा महान चित्रकार, जिन्होंने चित्रकारी को दिया नया आयाम


पाक पीएम इमरान खान ने विश किया हैप्पी होली, ट्विटर पर लोगों ने लगा दी लताड़

पाक पीएम इमरान खान ने विश किया हैप्पी होली, ट्विटर पर लोगों ने लगा दी लताड़


होली पर रंगों से ऐसे करें अपनी त्वचा की हिफ़ाज़त, अपनाएं ये घरेलू तरीके

होली पर रंगों से ऐसे करें अपनी त्वचा की हिफ़ाज़त, अपनाएं ये घरेलू तरीके


यहां होली में जमकर होती है पुरुषों की धुनाई, जानिए क्यों?

यहां होली में जमकर होती है पुरुषों की धुनाई, जानिए क्यों?


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

और पढ़ें News

नेट पर पॉप्युलर