अब कोलकाता में पाइप के जरिए घर-घर पहुंचेगी रसोई गैस, पूर्वी भारत में पहली बार

author image
Updated on 22 Feb, 2017 at 1:51 pm

Advertisement

ममता बनर्जी सरकार अब कोलकाता शहर में पाइप के जरिए घर-घर रसोई गैस पहुंचाने की कोशिशों में लगी है। द ग्रेटर कैलकटा गैस सप्लाई कॉरपोरेशन लिमिटेड (GCGSC) इस पायलट प्रोजेक्ट के लिए अब गैस अथॉरिटी ऑफ इन्डिया लिमिटे़ड (GAIL) से हाथ मिलाने पर विचार कर रहा है। दोनों कंपनियों में समझौता होने की स्थिति में कोलकाता में घर-घर पाइप के जरिए रसोई गैस पहुंचाना संभव हो सकेगा।

माना जा रहा है राज्य सरकार की इस कोशिश से लोगों को फायदा होगा। यह तरीका न केवल सुरक्षित है, बल्कि पर्यावरण के अनुकूल भी है। पाइप से गैस आपूर्ति होने पर छोटे उद्योगों को कोयले का उपयोग नहीं करना होगा। इससे प्रदूषण पर रोक लगेगी।


Advertisement

राज्य के उद्योग मामलों के मंत्री डॉ. अमित मित्रा कहते हैंः

“मंत्रिमंडल ने इस परियोजना के लिए अपनी सहमति दे दी है। GAIL के अधिकारी लंबे समय से हमसे संपर्क साधने की कोशिश कर रहे हैं। यह योजना न केवल कोलकाता बल्कि राज्य के अन्य शहरों में भी लागू की जाएगी।”

यह पहली बार है जब देश के पूर्वी इलाके में प्राकृतिक गैस पाइप के जरिए घर-घर तक पहुंचाने की कोशिश हो रही है।

पिछले साल के अंत में पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंन्द्र प्रधान ने कहा था कि पेट्रोलियम मंत्रालय ने कोलकाता व इसके आसपास के क्षेत्रों में पाइप से प्राकृतिक गैस की आपूर्ति अगले तीन साल में शुरू करने की योजना बनाई है। इसके लिए 12000 करोड़ रुपए के निवेश का प्रावधान किया गया है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement