कोलकाता फ्लाईओवर हादसे में मृतकों की संख्या हुई 25, राहत-बचाव कार्य जारी

author image
Updated on 10 Jul, 2016 at 11:42 am

Advertisement

कोलकाता फ्लाईओवर हादसे में मरने वालों की संख्या 25 से अधिक हो गई है। जबकि आशंका जताई जा रही है कि करीब 100 मीटर के दायरे में फैले मलबे में और भी कई लोग दबे हो सकते हैं। रात भर चलाए गए राहत और बचाव अभियान में करीब 90 लोगों को मलबे से निकाला जा चुका है।

3

15 मृतकों की शिनाख्त कर ली गई है। घायलों को स्थानीय अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। करीब दर्जन भर घायलों की हालत गंभीर बताई गई है।

पश्चिम बंगाल सरकार ने हादसे के उच्चस्तरीय जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। राज्य के मुख्य सचिव वासुदेव बनर्जी ने कहा कि हादसे की उच्च-स्तरीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं। सरकार ने कहा है कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

12


Advertisement

इससे पहले गुरुवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि घटना की जांच के बाद ही कहा जा सकेगा कि हादसा क्यों हुआ था।

इस बीच, पुलिस ने फ्लाईओवर बनाने वाली कंपनी आईवीआरसीएल के स्थानीय दफ्तर को सील कर दिया है और कंपनी के खिलाफ आईपीसी की धारा 304, 308 और 407 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।



14

घटनास्थल का दौरा करने वाले पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने इस मामले में राज्य सरकार से रिपोर्ट तलब की है।

एनडीआरएफ के अधिकारियों का मानना है कि राहत और बचाव कार्य अगले 72 घंटे तक चल सकता है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement