Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

कभी करण जौहर के घर में नौकर थीं इस कंटेस्टेंट की मां, बेटे ने ‘कौन बनेगा करोड़पति’ में कमाल कर दिया

Published on 21 September, 2018 at 10:09 am By

इन दिनों टेलीविजन शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ टीआरपी के मामले में टीवी के शीर्ष कार्यक्रमों में शुमार हो चुका है। इस लोकप्रिय शो की खुमारी हर किसी के सिर चढ़कर बोल रही है। देशभर से प्रतिभागी ‘केबीसी’ प्रतियोगिता में हिस्सा लेने पहुंच रहे हैं। वैसे तो ‘केबीसी’ के हर नए एपिसोड में कंटेस्टेंट्स अपनी जिंदगी से जुड़े खट्टे-मीठे पलों को साझा करते ही है, लेकिन हाल ही में प्रसारित हुआ एक एपिसोड कुछ खास रहा।


Advertisement

 

 

इस एपिसोड में महाराष्ट्र के दीपक भोंदेकर को अमिताभ बच्चन के साथ हॉट सीट पर बैठने का मौका मिला। ‘केबीसी’ के बहुत से प्रतिभागियों की तरह इनकी कहानी भी काफी भावुक और दिल को छू लेने वाली है। निम्न मध्यम वर्गीय परिवार से ताल्लुक रखने वाले दीपक ने बताया कि उनका सफर काफी संघर्षमय रहा है। दीपक ने बताया कि उन्होंने अपने जीवनकाल में बहुत सी कठिनाइयों का सामना किया।



 

 

इस दौरान उन्होंने इस बात का ज़िक्र भी किया कि एक समय उनकी मां निर्माता निर्देशक करण जौहर के घर में काम किया करती थीं। दीपक ने बताया कि उनके घर की आर्थिक स्थिति शुरुआत से ही ठीक नहीं है। उनके पिता ऑटो चलाया करते थे ,जबकि मां दूसरों के घरों में काम करने के साथ-साथ पापड़ बनाने का काम भी किया करती थीं।

 


Advertisement

 


Advertisement

शो में मौजूद दीपक की मां ने बताया कि उनके बेटे ने हमेशा उनके काम में हाथ बटाया है। पढ़ाई के दौरान भी दीपक अपनी मां का हाथ बटाने के लिए उनके साथ पापड़ बेला करते थे। दीपक की मां के मुताबिक, वह एक दिन में 27 किलो तक पापड़ बेल लिया करते थे। बता दें कि दीपक ने शो में 12 लाख 50 हजार रुपये की रकम जीती।

Advertisement

नई कहानियां

मां के बताए कोड वर्ड से बच्ची ने ख़ुद को किडनैप होने से बचाया, हर पैरेंट्स के लिए सीख है ये वाकया

मां के बताए कोड वर्ड से बच्ची ने ख़ुद को किडनैप होने से बचाया, हर पैरेंट्स के लिए सीख है ये वाकया


क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए

क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए


G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!

G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!


Eva Ekeblad: जिनकी आलू से की गई अनोखी खोज ने, कई लोगों का पेट भरा

Eva Ekeblad: जिनकी आलू से की गई अनोखी खोज ने, कई लोगों का पेट भरा


Charles Macintosh ने किया था रेनकोट का आविष्कार, कभी किया करते थे क्लर्क की नौकरी

Charles Macintosh ने किया था रेनकोट का आविष्कार, कभी किया करते थे क्लर्क की नौकरी


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें News

नेट पर पॉप्युलर