मनुष्य और प्रकृति एक दूसरे के साथ खूबसूरती से रह सकते हैं, ट्रेन स्टेशन पर 700 साल पुराना वृक्ष है प्रमाण

author image
Updated on 25 Jan, 2017 at 6:46 pm

Advertisement

जापान के ओसाका शहर के उत्तर-पूर्व में स्थित एक ट्रेन स्टेशन इस बात का सबूत है कि मनुष्य और प्रृकृति एक-दूसरे के साथ खूबसूरती से रह सकते हैं। कायाशिमा नामक इस स्टेशन की खासियत है यहां एक 700 वर्ष पुराने वृक्ष का होना, जो प्लेटफॉर्म के शेड के इर्द-गिर्द फैला हुआ है।

यहां पहली बार वर्ष 1910 में स्टेशन बनाया गया था। आबादी बढ़ने पर करीब 60 साल बाद वर्ष 1972 में इस स्टेशन के विस्तार की बात आई, तब इसकी जद में यह पेड़ भी आ गया।


Advertisement

नई इमारत बनाने के लिए अधिकारियों ने इस पेड़ को काट कर हटा देने निर्णय ले लिया। लेकिन जब अधिकारियों ने काम शुरू किया तो कई तरह की दिक्कतें सामने आ गईं। इस पेड़ का डाल काटने की कोशिश करने वाले एक व्यक्ति को अगले ही दिन तेज बुखार हो गया।

वहीं, इसे काटने के लिए काम लगाए गए मजदूरों को पेड़ की जड़ से धुआं निकलता दिखाई दिया। जब इसके बारे में स्थानीय लोगों को पता चला तब उन्होंने इस पेड़ के काटे जाने का विरोध बड़े पैमाने पर करना शुरू कर दिया। बाद में इस वृक्ष को आस्था से जुड़ा मामला बताकर यहां रहने दिया गया।

हालांकि, अब यह वृक्ष इस बात का जीता-जागता प्रमाण है कि विकास के लिए पर्यावरण या प्रकृति को नुकसान पहुंचाए बिना भी काम किया जा सकता है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement