‘कटप्पा’ की बेटी ने किया ऐसा काम जिसे जानकर आपको भी उन पर गर्व होगा

Updated on 24 Dec, 2017 at 9:19 am

Advertisement

बाहुबली फिल्म तो आपने भी देखी ही होगी और कटप्पा भी आपको याद होगा ही। इस फिल्म में जितना पॉप्युलर बाहुबली का किरदार था, उतना ही लोकप्रिय कटप्पा का किरदार भी था। इतना ही नहीं कटप्पा का किरदार निभाने वाले सत्यराज को लोग उनके असली नाम की बजाय कटप्पा नाम से ही जानते ही। कटप्पा जहां रील लाइफ के हीरो हैं, वहीं उनकी बेटी दिव्या सत्यराज रियल लाइफ हीरो है। दिव्या ने ऐसा काम किया है जिसे सुनकर आपको भी गर्व होगा।

 

दिव्या पेशे से न्यूट्रीशनिस्ट हैं और उन्होंने इसी विषय में एम.फिल. भी किया है। अब वो इसीमें PHD भी कर रही हैं।


Advertisement

 

 

कुछ दिनों पहले अमेरिका की एक फार्मास्यूटिकल कंपनी ने दिव्या पर अपने प्रोडक्ट्स प्रिस्क्राइब करने का दबाव बनाया था, लेकिन दिव्या ने ऐसा नहीं किया।

 

 

उसकी वजह थी कि कंपनी ने जो टैबलेट बनाई थी उसमें विटामिन का ओवरडोज़ था जिसकी वजह से हाइपरविटामिनोसिस की कंडीशन पैदा हो सकती है।



 

यह टैबलेट सेहत के लिए हानिकारक है और इसका आंखों की रोशनी पर भी बुरा असर पड़ता है। इतना ही नहीं इससे जान का भी खतरा हो सकता है। यही वजह है कि दिव्या ने इस दवा को प्रिस्क्राइब करने से मना मन कर दिया।

 

 

फार्मा कंपनी की बात नहीं मानने पर दिव्या पर पॉलिटिकल प्रेशर का भी इस्तेमाल किया गया। उन्हें धमकियां भी दी गई, मगर इससे डरकर दिव्या ने अपना फैसला बदला नहीं। उन्होंने मदद के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखा।

 

दिव्या समाज सेवा से भी जुड़ी रही हैं और समय-समय पर समाज सेवा के लिए कैम्प लगाती रहती हैं। कुछ दिनों पहले ही उन्होंने तमिल शरणार्थियों को पोषण और एनीमिया जैसी बीमारियों से बचाने के लिए हेल्दी इटिंग और विटामिन थेरेपी पर अवेयरनेस कैम्प लगाया था।

दिव्या का कदम वाकई सराहनीय है। यदि समाज के सभी लोग दिव्या जैसे समझदार हो जाएं, तो बहुत से लोगों का भला हो सकता है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement