कन्हैया कुमार ने कहा- उमर खालिद नहीं है दोस्त, उसकी राजनैतिक विचारधारा से सहमत नहीं

author image
Updated on 27 Feb, 2016 at 7:48 pm

Advertisement

राजद्रोह के आरोप में JNU परिसर से 12 फरवरी को गिरफ्तार, जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने दावा किया है कि वह निजी तौर पर उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य को नहीं जानता, लेकिन उनके राजनैतिक जुड़ाव के बारे में उसे पता था।

कन्हैया ने कथित तौर पर दावा किया है कि वह उन्हें सिर्फ साथी छात्रों के रूप में जानता था और उनकी राजनैतिक विचारधारा से सहमत नहीं था।

उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य देशद्रोह के आरोप में दिल्ली पुलिस की हिरासत में है। दोनों पर आतंकी अफजल गुरु के पक्ष में JNU कैंपस के भीतर कार्यक्रम आयोजित करवाने और देश विरोधी नारे लगाने का आरोप है। दोनों स्टूडेंट्स ने 23 फरवरी की रात को सरेंडर किया था, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें अरेस्ट कर लिया था।



Umar Khalid and Anirban Bhattacharya

उमर खालिद (बाएं) और अनिर्बान भट्टाचार्य (दाएं) thehindu


Advertisement

पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश में जुटी है। सूत्रों के मुताबिक, खालिद ने देशविरोधी नारे लगाने से इनकार किया है। हालांकि, उसने यह बात कबूली है कि उसने कश्मीर की आजादी को लेकर नारेबाजी की थी।

आपके विचार


  • Advertisement