जॉनसन एंड जॉनसन पाउडर के उपयोग से महिला को कैन्सर, कंपनी देगी 468 करोड़ रुपए हर्जाना

author image
Updated on 29 Oct, 2016 at 6:29 pm

Advertisement

जॉनसन एंड जॉनसन पाउडर के उपयोग के महिला को कैन्सर होने का वाकया सामने आया है। एक अमेरिका कोर्ट ने इस कंपनी को आदेश दिया है कि 62 साल की डेबोराह गियानेचिनी नामक महिला हर्जाना के रूप में 468 करोड़ रुपए दिए जाएं। महिला का दावा है कि जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी का पाउडर नियमित इस्तेमाल करने से उन्हें कैंसर हो गया था।

डेबोराह गियानेचिनी के मुताबिक, उन्हें वर्ष 2012 में ओवेरियन कैन्सर का पता चला। इसका इलाज कराते समय सर्जरी के दौरान डाक्टरों को ओवरी में इस पाउडर के पार्टिकल्स मिले। हालांकि, कंपनी इस पाउडर हाइजीन उत्पाद बताकर बेचती है।

डेबोराह के वकील जिम ओंडेर ने कहा कि कंपनी के दस्तावेजों से पता चलता है कि उसे 1970 के दशक से यह पता था कि टेल्कम पाउडर से सेहत को नुकसान हो सकता है। कंपनी ने प्रोडक्ट पर इसकी वॉर्निंग नहीं दी और यह बात छुपाती रही।

ओंडेर ने कहा कि डेबोराह ने यह मुकदमा पैसे के लिए नहीं किया है। वह चाहती हैं कि दुनिया को यह पता चले कि उनकी बीमारी की वजह एक उत्पाद है।


Advertisement

जॉनसन एंड जाॅनसन पर पहले भी ऐसे आरोप लगते रहे हैं कि उनका पाउडर सुरक्षित नहीं है। हालांकि, कंपनी के प्रवक्ता कैरोल गुडरिच का दावा है कि उनके सारे उत्पाद बेहद सुरक्षित हैं और सभी मानदंडों पर खरे उतरते हैं।

गौरतलब है कि कोर्ट में जॉनसन एंड जाॅनसन यह साबित नहीं कर सकी थी कि कंपनी का बेबी बाउडर सुरक्षित है। इसके बाद ही इसे पीडि़ता को जुर्माना देने के लिए कहा गया था।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement