JNU से लापता छात्र नजीब के इस्लामिक स्टेट से जुड़ने का शक !

author image
Updated on 21 Mar, 2017 at 11:42 am

Advertisement

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय से लापता छात्र नजीब इस्लामिक स्टेट के बारे में जानकारी जुटा रहा था। यह दावा दिल्ली पुलिस ने किया है। दिल्ली पुलिस का कहना है कि नजीब के लापता होने से पहले सीसीटीवी फुटेज मिले हैं, जिनमें वह ऑटोरिक्शा में बैठते हुए दिख रहा है। पुलिस को आशंका है कि नजीब संभवतः कट्टपंथियों के प्रलोभन में नेपाल की तरफ निकला है।

दिल्ली पुलिस का कहना है कि गत वर्ष 14 अक्टूबर को अखिल भारती विद्यार्थी परिषद के सदस्यों के साथ झड़प से ठीक एक रात पहले नजीब कुख्यात आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के नेता के भाषण का विडियो देख रहा था। झगड़े के अगले दिन ही वह गायब हो गया था। सुरक्षा एजेन्सियों के साथ जांच में पुलिस को यह भी पता चला है कि नजीब इस्लामिक स्टेट के विडियोज देखा करता था। पुलिस अब उसके इस्लामिक स्टेट से जुड़ने की संभावनाओं के आधार पर जांच कर रही है। इसी बीच पुलिस ने नजीब के फोटो पोस्टर उत्तर प्रदेश से लेकर नेपाल में तमाम जगहों पर चिपकाए हैं।

नजीब के लापता होने के बाद पुलिस इस मामले में कई एंगल्स पर काम कर रही है।


Advertisement

इस रिपोर्ट के मुताबिक, नजीब के बचपन से धार्मिक होनी का जानकारी पुलिस को मिली है। इस आधार पर पुलिस ने आगरा, बदायूं, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और अजमेर के करीब 150 मस्जिदों और दरगाहों पर भी छानबीन की, लेकिन इससे कुछ खास हासिल नहीं हुआ।

नजीब का पता देने पर 10 लाख का ईनाम भी घोषित किया। उसके लैपटॉप को फॉरेन्सिक जांच के लिए भेजा गया है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement