Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

इतिहासकारों ने ईसा मसीह के वजूद पर खड़े किए सवाल, कहा- विश्वसनीय साक्ष्य नहीं !

Published on 26 June, 2017 at 3:21 pm By

क्या ईसा मसीह ईश्वर हैं? क्या उनका कोई अस्तित्व था ? ये ऐसे सवाल हैं जो अब कई इतिहासकार और ब्लॉगर्स उठा रहे हैं।


Advertisement

दुनियाभर में इसाई धर्म के अनुयायी ईसा मसीह यानी कि जीज़स क्राइस्ट को ईश्वर का पुत्र मान उन्हें पूजते हैं। अगर यहूदी और इस्लाम धर्म की बात करें तो इनमें ईसा मसीह को पैगम्बर बताया गया है। ईसा मसीह से जुड़ा इतिहास जो हम किताबों में पढ़ते आए हैं, वो उन्हें एक ऐतिहासिक व्यक्तित्व का दर्जा देता है।

लेकिन अब इसी ऐतिहासिक व्यक्तित्व के अस्तित्व पर कई इतिहासकारों ने उंगली उठाई है। उनका मानना है कि ईसा मसीह नाम का कोई शख्स शायद कभी पैदा ही नहीं हुआ था। यह मात्र अफवाह भर है।

इस विषय को कई लेखकों ने अपनी किताब में अलग नजरिए से सामने रखा है। मशहूर लेखक रेजा असलान की किताब ‘ज़ेलट’, डेविड फिट्सजेरलेड की लिखी ‘नेल्ड: टेन क्रिस्चन मिथ्स दैट शो जीज़स नेवर एक्जिस्टड ऐट ऑल’ और बार्ट ऐरमन की लिखी ‘हाऊ जीज़स बिकेम गॉड’ ईसा मसीह के अस्तित्व के मुद्दे पर प्रकाश डालती हैं। इसके इलावा कई और किताबें हैं जो ईसा मसीह के वजूद पर सवाल खड़ा करती हैं।

इन इतिहासकारों का मानना है कि ईसा मसीह को लेकर कोई विश्वसनीय ऐतिहासिक साक्ष्य मौजूद नहीं हैं।



ईसा मसीह को लेकर जो कुछ भी विवरण मिलते हैं, वो उनकी मृत्यु के कई वर्षों बाद सुनी सुनाई बातों के आधार पर है, जिन्हें  पुख्ता प्रमाण नहीं माना जा सकता।

वहीं इतिहासकार अपनी इस बात को बल अपनी इस कथनी से देते हैं कि ईसाई धर्म के पवित्र धर्मग्रंथ ‘बाइबल’ में ही ईसा मसीह के 12 साल से लेकर 30 साल की उम्र तक का कोई विवरण नहीं है।

33 साल की उम्र में सूली पर चढ़ा दिए गए ईसा मसीह के जीवन के कई सालों का जिक्र न होना, इतिहासकारों को अखरता है।


Advertisement

ज्यादातर इतिहासकार इस बात की गुंजाइश भी रखते हैं कि किसी विशेष शख्स से प्रभावित होकर उसके बारे में मिथक गढ़े होंगे। ईसा मसीह के चरित्र को प्राचीन पौराणिक कथायों से प्रेरित भी बताया गया है, जिसके समय के साथ रहते मिथक का रूप ले लेने के आसार हैं। हालांकि, इतिहासकार जो विवरण सामने रख रहे हैं उससे  भी किसी साक्ष्य पर नहीं पहुंचा जा सकता।

स्रोत: NBT

Advertisement

नई कहानियां

इस फ़िल्ममेकर के साथ काम करने को बेताब हैं तब्बू, कहा अभिनेत्री न सही, असिस्टेंट ही बना लो

इस फ़िल्ममेकर के साथ काम करने को बेताब हैं तब्बू, कहा अभिनेत्री न सही, असिस्टेंट ही बना लो


इस शख्स की ओवर स्मार्टनेस देख हंसते-हंसते पेट में दर्द न हो जाए तो कहिएगा

इस शख्स की ओवर स्मार्टनेस देख हंसते-हंसते पेट में दर्द न हो जाए तो कहिएगा


मां के बताए कोड वर्ड से बच्ची ने ख़ुद को किडनैप होने से बचाया, हर पैरेंट्स के लिए सीख है ये वाकया

मां के बताए कोड वर्ड से बच्ची ने ख़ुद को किडनैप होने से बचाया, हर पैरेंट्स के लिए सीख है ये वाकया


क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए

क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए


G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!

G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें News

नेट पर पॉप्युलर