5G से भी 10 गुना तेज है यह वायरलेस डेटा ट्रांसफर तकनीक, बदलेगा इन्टरनेट का चेहरा

author image
Updated on 8 Feb, 2017 at 5:49 pm

Advertisement

जापान के वैज्ञानिकों ने एक ऐसा ट्रान्समिटर बनाने में सफलता हासिल की है जो 5G की तुलना में 10 गुना अधिक तेज होगी। डेटा ट्रान्समिट में तेजी से डाउनलोग की स्पीड तो बढ़ेगी ही, साथ ही इन-फ्लाइट नेटवर्क कनेक्शंस की स्पीड भी बढ़ेगी।

यह टेराहर्ट्स (THz) ट्रांसमिटर बनाया गया है कि जापान की हिरोशिमा यूनिवर्सिटी और नैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ इन्फर्मेशन ऐंड कम्यूनिकेशंस टेक्नॉलजी में। वैज्ञानिक फिलहाल इसका ट्रायल कर रहे हैं। बताया गया है कि यह सिंगल चैनल पर 300 गीगाहर्ट्स बैंड को इस्तेमाल करते हुए एक सेकंड में 100 गीगाबिट्स के रेट पर डिजिटल डेटा ट्रान्समिट करता है। कैलिफोर्निया के सैन फ्रैन्सिस्को में 5-9 फरवरी के बीच चल रहे इन्टरनेशनल सॉलिड-स्टेट सर्किट कॉन्फ्रेन्स में इसका प्रदर्शन किया जा रहा है।

हिरोशिमा यूनिवर्सिटी के मी नोर फुजिशिमा ने कहाः


Advertisement

“अभी तक हम वायरलेस डेटा के बारे में मेगाबिट्स प्रति सेकंड या गीगाबिट्स प्रति सेकंड में ही बात करते हैं, मगर जल्द ही टेराबिट्स प्रति सेकंड की स्पीड इस्तेमाल की जा सकेगी।”



मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि इस नई तकनीक को भविष्य में अल्ट्राहाई-स्पीड वायरलेस कम्यूनिकेशंस में इस्तेमाल किया जा सकता है। रिसर्च ग्रुप का बनाया एक ट्रान्समिटर 290GHz से 315GHz फ्रिक्वेंसी रेंज पर 105 गीगाबिट्स प्रति सेकंड की स्पीड से ट्रान्समिशन कर सकता है।

यह पहली बार हुआ है जब IC आधारित ट्रांसमिटर से 100 गीगाबिट्स प्रति सेकंड की रफ्तार पर डेटा एक्सचेंज किया जा सकता है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement