सिंगापुर के 6 उपग्रह आज लान्च करेगा इसरो (ISRO)

author image
Updated on 16 Dec, 2015 at 9:29 am

Advertisement

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) आज शाम को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा रॉकेट प्रक्षेपण केंद्र से सिंगापुर के 6 उपग्रहों को अंतरिक्ष में लान्च कर नया इतिहास रचेगा।

यह अभियान पूरी तरह से कॉमर्सियल है, जिससे अंतरिक्ष एजेन्सी को एक आय होगी। हालांकि इस अभियान से होने वाली आय का खुलासा नहीं किया गया है।

ISRO

इस वर्ष इसरो ने श्रीहरिकोटा से कुल 14 उपग्रह छोड़े हैं, जिनमें तीन भारतीय और 11 विदेशी हैं। इसरो की व्यवसायिक शाखा एंट्रिक्स कॉरपोरेशन लिमिटेड 20 ग्राहक देशों के 51 उपग्रहों के लिए पीएसएलवी के जरिए प्रक्षेपण की सेवाएं उपलब्ध करवा चुकी है।



पीएसएलवी रॉकेट के साथ जाने वाले उपग्रहों में सबसे प्रमुख है, 400 किलो वजनी पृथ्वी अवलोकन उपग्रह ‘टेलिओस-1Ó। यही वजह है कि इसरो ने इस अभियान का नाम टेलिओस अभियान रखा है। अन्य पांच उपग्रहों में शामिल हैंः वेलॉक्स-सी1 (123 किलोग्राम), वेलॉक्स-2 (13 किलोग्राम), केंट रिज-1 (78 किलोग्राम), गलासिया (3.4 किलोग्राम) और एथेनॉक्सेट-1।


Advertisement

इनमें दो माइक्रो उपग्रह और तीन नैनो उपग्रह हैं। इसरो का 2015 में यह अंतिम रॉकेट प्रक्षेपण अभियान होगा।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement