एक साथ 82 उपग्रह लॉन्च कर विश्व रिकॉर्ड बनाएगा इसरो

author image
Updated on 29 Oct, 2016 at 12:55 pm

Advertisement

इसरो एक साथ अंतरिक्ष में 82 उपग्रह लॉन्च कर विश्व रिकॉर्ड बनाने जा रहा है। इन उपग्रहों में 60 अमेरिका के, 20 यूरोप के और 2 ब्रिटेन में बने होंगे। यह पहली बार होगा जब कोई देश इतनी बड़ी संख्या में उपग्रह अंतरिक्ष की कक्षा में स्थापित करेगा।

इससे पहले भारत 20 उपग्रह एक साथ लॉन्च कर चुका है। फिलहाल सबसे अधिक उपग्रह लॉन्च करने वाले देशों में भारत का नंबर तीसरा है। सबसे अधिक उपग्रह एक साथ लॉन्च करने का रिकॉर्ड रूस के नाम है।

एक मीडिया रिपोर्ट में मार्स मिशन के परियोजना निदेशक एस. अरुणन के हवाले से बताया गया है कि अगले साल जनवरी में इसरो विश्व रिकॉर्ड बना सकता है। बताया गया है कि इन उपग्रहों को पीएसएलवी रॉकेट के एडवान्स्ड वर्जन पीएसएलबी-एक्सएल से लॉन्च किया जाएगा।

19 जून 2014 को एक साथ 37 उपग्रह लॉन्च कर रूस ने रिकॉर्ड बनाया था। दूसरे स्थान पर अमेरिका है, जिसने 19 नवंबर 2013 को एक साथ 29 उपग्रह लॉन्च किए थे।



इसरो ने इसी साल 22 जून को एक साथ 20 उपग्रह लॉन्च किए थे, जिनमें 13 अमेरिका के थे।

अंतरिक्ष की दुनिया में इसरो एक के बाद एक रिकॉर्ड बना रहा है। इससे पहले इसरो ने 24 सितंबर 2014 को पहली ही कोशिश में मंगलयान भेजकर मंगल की कक्षा में स्थापित कर दिया था। यह अपने आप में एक रिकॉर्ड था। जनवरी का मिशन कामयाब होने की स्थिति में इसरो का सिर्फ ढाई साल के अंतराल में दूसरा रिकॉर्ड होगा।

वर्ष 1993 से अब तक पीएसएलवी से अब तक 37 बार उपग्रहों की लांचिंग हो चुकी है। यह दुनिया का सबसे भरोसेमंद सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल बन गया।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement