एकसाथ 22 उपग्रहों का प्रक्षेपण कर इतिहास रचेगा ISRO, तैयारियां पूरी

author image
Updated on 31 Mar, 2016 at 1:12 pm

Advertisement

ISRO एक साथ 22 उपग्रह का प्रक्षेपण कर इतिहास रचने की तैयारी कर रहा है। ये उपग्रह इसी साल मई महीने में श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से प्रक्षेपित किए जाएंगे।

हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इन 22 उपग्रहों को पीएसएलवी सी34 रॉकेट के जरिए उनकी कक्षाओं में स्थापित किया जाएगा।

इस रॉकेट से एक भारतीय रिमोट सेंसिंग सेटेलाइट कारटोसेट 2सी के अलावा 85 से 130 किलोग्राम के चार माइक्रो सेटेलाइट और 4 से 30 किलोग्राम के 17 नैनो सेटेलाइट अंतरिक्ष में छोड़े जाएंगे। दो नैनो सेटेलाइट्स पुणे इंजीनियरिंग कॉलेज और सत्यभामा विश्वविद्यालय ने बनाए हैं।

इन 22 में से 18 सेटेलाइट विदेशी हैं। अमेरिका, कनाडा, जर्मनी और इंडोनेशिया ने भी अपने उपग्रह प्रक्षेपण की जिम्मेदारी इसरो को दी है।


Advertisement

इससे पहले अप्रैल 2008 में इसरो ने पीएसएलवी सी9 रॉकेट से 10 उपग्रहों को अंतरिक्ष में भेजा था।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement