यह शख्स बनेगा मुकेश अंबानी का दामाद, बेटी ईशा की शादी हुई तय

author image
Updated on 6 May, 2018 at 8:42 pm

Advertisement

देश के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी की बेटी ईशा भले ही लाइम लाइट से दूर रहती हों, लेकिन अपने पिता की तरह ही बिज़नेस स्किल्स से उन्होंने अपनी एक अलग पहचान बनाई है। ईशा जितनी खूबसूरत है, उतनी ही सफल बिजनेस वुमन भी हैं।

 

 

सिर्फ 26 साल की उम्र में ही वो रिलायंस टेलीकॉम और रिटेल कम्पनी की डायरेक्टर बन गई हैं और रिलायंस जियो के ऑफर्स तय करने में भी ईशा का अहम रोल रहा है।

 

 

अब खबर है कि मुकेश अंबानी के बड़े बेटे आकाश अंबानी के बाद अब उनकी बेटी ईशा अंबानी जल्द ही शादी के बंधन में बंधने वाली है।

 

View this post on Instagram

Happy Sunday !!

A post shared by Isha Ambani (@ambani.isha) on

 

ईशा अंबानी इस साल दिसंबर में पीरामल ग्रुप के चेयरमैन अजय पीरामल के बेटे आनंद पीरामल के साथ सात फेरे लेंगी। शादी भारत में ही होगी।

 

बता दें कि आनंद पीरामल अपने पिता का बिज़नेस संभालते हैं। वो पिरामल इंटरप्राइजेज के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर हैं।

 


Advertisement

 

आनंद ने ईशा को महाबलेश्वर के मंदिर में शादी के लिए प्रपोज किया था। दोनों की साथ में कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर सुर्खियां बटोर रही हैं।

 

 

दोनों की कुछ रोमांटिक तस्वीरें भी सामने आई हैं, जिसमें आनंद पीरामल अपने घुटनों पर बैठकर ईशा अंबानी को प्रपोज करते हुए दिखाई दे रहे हैं।

 

इस मौके पर दोनों के परिवार भी महाबलेश्वर पहुंचे हुए थे। इस प्रपोजल के बाद दोनों परिवारों ने साथ में लंच किया। इस मौके पर मुकेश अंबानी और नीता अंबानी समेत ईशा की दादी कोकिलाबेन अंबानी और दोनों भाई आकाश, अनंत भी मौजूद थे।

 

 

बता दें कि अंबानी और पीरामल परिवार एक-दूसरे को करीबन 40 सालों से जानते हैं। ईशा और आनंद भी लंबे समय से दोस्त रहे हैं।अब ये दोस्ती रिश्तेदारी में बदलने जा रही है।

 

 

जानिए कौन है आनंद पीरामल

 

आनंद ने यूनिवर्सिटी ऑफ पेन्सिलवेनिया से इकनॉमिक्स में ग्रैजुएट किया। इसके बाद हार्वर्ड बिज़नेस स्कूल से बिज़नेस ऐडमिनिस्ट्रेशन में पोस्ट ग्रैजुएशन करने के बाद उन्होंने ‘पिरामल रियल्टी’ और ‘पिरामल स्वास्थ्य’ के नाम से दो स्टार्अप शुरू किए।

 

आनंद ने ग्रामीण स्वास्थ्य के क्षेत्र में पहल करते हुए ‘पिरामल स्वास्थ्य’ की स्थापना की थी। आज यह एक दिन में 40,000 से अधिक रोगियों का इलाज कर उन्हें स्वस्थ्य जिंदगी प्रदान कर रही है। आनंद इंडियन मर्चेंट चेंबर-यूथ विंग के सबसे युवा अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement