इरोम शर्मिला तोड़ेंगी 16 साल से जारी अनशन, लड़ेंगी विधानसभा चुनाव

author image
Updated on 26 Jul, 2016 at 4:45 pm

Advertisement

मणिपुर में सशस्त्र बल विशेषाधिकार कानून (AFSPA) के हटाने की मांग को लेकर बीते लगभग 16 साल से अनशन पर रहकर संघर्ष का पर्याय बन चुकीं मानवाधिकार कार्यकर्ता इरोम शर्मिला अपना अनशन 9 अगस्त को खत्म करने जा रही हैं।

खबरों के मुताबिक, वह मणिपुर में विधानसभा चुनाव लड़ना चाहती हैं। मणिपुर में 2017 में विधानसभा चुनाव होने हैं।

‘आयरन लेडी’ के नाम से मशहूर 42 वर्षीय शर्मीला ने खुद इस बात का ऐलान किया।

16 सालों से अनशन में रही शर्मिला को कई सालों से जबरन नाक में डाली गई ट्यूब के जरिए खिलाया-पिलाया जाता रहा है।


Advertisement

AFSPA के विरोध में इरोम शर्मिला ने अपने अनशन की शुरुआत नवंबर 2000 में की। इस एक्ट के अंतर्गत सेना को मणिपुर में अतिरिक्त शक्तियां मिली हुई हैं।

असम राइफल्स के सैनिकों द्बारा कथित रूप से 10 लोगों को गोलियां मार दिए जाने के बाद इरोम ने अपना आंदोलन शुरू किया था।

इरोम किसी पार्टी से चुनाव लड़ेगी या फिर निर्दलीय खड़ीं होगीं यह फिलहाल अब तक साफ नहीं है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement