IPL 2018 अब तक का सबसे बेहतरीन टूर्नामेन्ट रहा है, ये हैं 8 वजह

Updated on 28 May, 2018 at 5:24 pm

Advertisement

चेन्नई सुपरकिंग्स ने अपने शानदार खेल से IPL 2018 की ट्रॉफी जीत ली। महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपरकिंग्स ने दो साल बाद यह जीत हासिल की है। वैसे IPL का यह 11वां सीज़न कई मायनों में बहुत खास और बाकी से अलग रहा। यहां तक कि कमेंटेटर हर्षा भोगले ने भी माना की इस बार का IPL हर बार से ज़्यादा शानदार रहा। इस बार कई ए खिलाड़ियों ने अपना हुनर दिखाया, वहीं पुराने खिलाड़ियों ने भी अपने अनुभवी खेल का परिचय दिया। इसके अलावा और क्या खास रहा IPL 2018 में, चलिए जानते हैं।

 

1. बेहद संतुलित

 

IPL के बाकी सीज़न में अधिकतर शुरुआत से ही एक टीम का दबदबा बना रहता है और कुछ टीमों का खेल इतना खराब रहता है कि वो जल्दी ही टूर्नामेंट से बाहर हो जाती थीं। इस बार ऐसा नहीं हुआ, किसी भी टीम ने 14 में से 9 से ज़्यादा मैच नहीं जीते।


Advertisement

 

 

2. चेन्नई सुपरकिंग्स की वापसी शानदार रही

 

चेन्नई सुपरकिंग्स ने 11 IPL में से सिर्फ 9 ही खेले और उसमें भी 7 में वो फाइनल में पहुंची। यह अपने आप में शानदार रिकॉर्ड है। पिछले तीन साल से चेन्नई की जीत का इंतज़ार कर रहे फैंस को इस बार धोनी की टीम ने निराश नहीं किया।

 

 

3. गेंदबाज़ों का राज

 

इस बार के IPL में गेंदबाज़ों ने अपना जलवा दिखाया, तभी तो कई बार छोटे लक्ष्य को भी सामने वाली टीम हासिल नहीं कर पाई या हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ी। गेंदबाज़ों का प्रदर्शन ज़बर्दस्त रहा। सनराइज़र्स हैदराबाद ने 118 रन बनाने के बाद भी मुंबई इंडियन्स को 31 रनों से हरा दिया था। राशिद खान ने IPL में शानदार प्रदर्शन किया।

 

 

4. एबी डिविलियर्स का आखिरी मैच

 

एबी डिविलियर्स का यह आखिरी IPL मैच था और उन्होंने इसमें बेहतरीन प्रदर्शन किया। 12 मैचों में उन्होंने 480 रन बनाए। डिविलियर्स विराट कोहली और अपनी बाकी टीम के सदस्यों के भी काफी करीब थे।

 

 

5. गौतम गंभीर की गंभीरता

 

दिल्ली डेयरडेविल्स प्लेऑफ के लिए भी क्वालिफाई नहीं कर पाई थी, मगर उसके कप्तान गौतम गंभीर के एक गंभीर फैसले ने बता दिया की वो कितने मैच्योर हैं। पहले 6 में से एक मैच जीतने के बाद गंभीर ने कप्तानी छोड़ दी और युवा श्रेयस अय्यर को कप्तान बनाया। खुद वो टीम से बाहर हो गए।

 

 

6. महेंद्र सिंह धोनी के करियर का बेस्ट IPL

 

75+ के औसत से 16 मैचों में 455 रन बनाने वाले महेंद्र सिंह धोनी के लिए इस बार का आईपीएल उनके करियर का सबसे बेहतरीन टूर्नामेंट साबित हुआ।

 

 

7. विराट कोहली सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी

 

IPL 2018 में विराट कोहली ने 14 मैचों में 530 रन बनाएं। इस तरह वो IPL में सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए। उनकी टीम भले ही प्लेऑफ तक नहीं पहुंच पाई, मगर विराट ने अपनी बैटिंग से दर्शकों को निराश नहीं किया।

 

 

8. IPL के विज्ञापनों ने खूब मनोरंजन किया

 

खेल के साथ ही IPL के विज्ञापनों ने भी इस बार लोगों का खूब मनोरंजन किया। दीपिका पादुकोण का जियो वाला विज्ञापन बहुत लोकप्रिय हुआ। इसके अलावा वोडाफोन का ज़ूज़ूस हो या आलिया भट्ट का फ्रूटी वाला विज्ञापन सबने आईपीएल 2018 में दर्शकों का मनोरंजन किया।

 

आईपीएल 2018 (IPL 2018)

charmboard


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement