इस देश के लोग दाने-दाने को तरस रहे हैं, एक प्लेट खाने की कीमत पहुंची एक करोड़

Updated on 27 Aug, 2018 at 12:01 am

Advertisement

अपने देश में महंगाई चुनावी मुद्दा बनता है और यूं कहें बनाया जाता है। यहां महंगाई है और इसकी मार भी है लेकिन जान जोखिम में नहीं है। लेकिन एक देश ऐसा भी है जहां दो वक्त खाना उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। महंगाई की स्थिति ऐसी है कि लाखों-करोड़ों की कीमत में खाना बिक रहा है। महज एक किलो सब्जी की कीमत लाखों रुपए पहुंच गई है।

 

दक्षिण अमेरिकी देश वेनेजुएला में लोग त्राहिमाम कर रहे हैं।

 

india.com


Advertisement

 

गौरतलब है कि वहां की करेंसी औंधे मुंह गिर चुकी है। नोट महज कागज का कड़ा बन कर रह गए हैं। वेनेजुएला की मुद्रा बोलिवर अब किसी काम का नहीं रह गई है। थैली में भर-भर के नोट देने के बाद एक वक्त का खाना लोगों को नसीब हो रहा है। एक ब्रेड की कीमत हजारों बोलिवर है। जानकर हैरानी होगी कि एक किलो मीट के लिए 3 लाख बोलिवर और एक लीटर दूध के लिए 80 हजार बोलिवर देने पड़ रहे हैं।

 

 

एक किलो चावल का मूल्य 25 लाख जबकि एक प्लेट नॉनवेज थाली 1 करोड़ में मिल रहा है। लिहाजा लोग देश छोड़कर भाग रहे हैं और कोलंबिया में शरण ले रहे हैं।

 



कोलंबिया खुद पलायन की मार से त्रस्त है और वहां कुछ दिन के भीतर लगभग 10 लाख लोग वेनेजुएला से भागकर आए हैं। दुनियाभर के लोगों से मदद करने की अपील की जा रही है ताकि वेनेजुएला की स्थिति में सुधार किया जा सके।

 

जानकारों का कहना है-

 

“वैश्विक स्तर पर कच्चे तेल की कीमत गिर चुकी है लिहाजा वेनेजुएला आर्थिक संकट से गुजर रहा है। वेनेजुएला सरकार ने जरूरत से ज्यादा नोट छपवा लिए हैं और इसीलिए इसकी वैल्यू कम हो गई है। सरकार की गलत नीतियों के कारण वहां भूखमरी के हालात बन गए हैं।”

 

राष्ट्रपति निकोलस माडुरो राजधानी कराकस में जी-तोड़ कोशिश कर रहे हैं लेकिन स्थिति में कोई सुधार देखने को नहीं मिल रहा है। व्यापारी वर्ग के साथ ही आम लोग सरकार विरोधी में जुटे हुए हैं। केंद्रीय बैंक ने नई विनिमय दर के अनुसार बोलिवर का 96 प्रतिशत तक अवमूल्यन कर दिया है।

 

el-carabobeno.com


Advertisement

हालत सुधरने में वक्त लगने के आसार हैं और आमजन लाचार है!

आपके विचार


  • Advertisement