Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

भीषण सूखे की वजह से मिट गया था सिन्धु घाटी सभ्यता का नामोनिशान

Updated on 4 November, 2016 at 4:20 pm By

करीब 4200 साल पहले संभवतः भीषण सूखे की वजह से सिन्धु घाटी सभ्यता का नामोनिशान मिट गया था। यह बात एक नए अध्ययन में सामने आई है।

यही नहीं, मिस्र, ग्रीस और मेसोपोटामिया की ऐतिहासिक सभ्यताओं के नाश का कारण भी लंबे समय तक चलने वाला भीषण सूखा था।

विशेषज्ञों का मानना है कि दक्षिण एशिया में मानसून चक्र जीवन के पनपने और स्थिर रहने के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। लेकिन ईसा से करीब 2 हजार साल पहले यह चक्र संभवतः 200 सालों के लिए रुक गया होगा। यही वजह है कि यहां पनपने वाली सिन्धु घाटी सभ्यता का नाश हो गया।

वर्तमान में पाकिस्तान में पड़ने वाली सिन्धु घाटी की सभ्यता एक अत्यन्त विकसित सभ्यता थी। इसके मोहनजोदड़ो, कालीबंगा, लोथल, धोलावीरा, राखीगढ़ी और हड़प्पा जैसे प्रमुख केन्द्र थे।


Advertisement

ये शहर पूरी योजना के साथ बसाए गए थे। माना जाता है कि इस सभ्यता के लोग धीरे-धीरे इस स्थान से पलायन करने लगे और इन शहरों का नाश होता रहा।

कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय की विशेषज्ञ यमा दीक्षित और उनकी टीम ने हरियाणा से सटे हुए सिन्धु घाटी इलाके में पड़ने वाले एक प्राचीन झील कोटला दाहर के अवसादों की जांच की। इस जांच के बाद सामने आया है कि करीब 4200 साल पहले यहां मानसूनी बारिश एकदम नहीं हुई।



इन क्षेत्रों में मानसूनी बारिश करीब 100 से 200 सालों तक नहीं हुई। मानसूनी बारिश न होने की वजह से यहां से लोगों का पलायन शुरू हो गया।

देहरादून स्थित वाडिया इन्सटीट्यूट ऑफ हिमालयन जियोलॉजी के निदेशक अनिल गुप्ता कहते हैं कि इससे सूखे की एक प्राचीन घटना के बारे में पता चलता है, लेकिन यह प्रश्न अब भी अनुत्तरित है कि 4100 साल पहले जयवायु परिवर्तन की यह घटना आखिर हुई क्यों।


Advertisement

वहीं महाराष्ट्र के लोनार झील से अवसादों की जांच से पता चला है कि इस इलाके में सूखे का प्रकोप करीब 4600 साल पहले शुरू हो गया था।

Advertisement

नई कहानियां

क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए

क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए


G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!

G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!


Eva Ekeblad: जिनकी आलू से की गई अनोखी खोज ने, कई लोगों का पेट भरा

Eva Ekeblad: जिनकी आलू से की गई अनोखी खोज ने, कई लोगों का पेट भरा


Charles Macintosh ने किया था रेनकोट का आविष्कार, कभी किया करते थे क्लर्क की नौकरी

Charles Macintosh ने किया था रेनकोट का आविष्कार, कभी किया करते थे क्लर्क की नौकरी


जानिए क्या है Google’s Birthday Surprise Spinner, बच्चों से लेकर बड़ों में है इसका क्रेज़

जानिए क्या है Google’s Birthday Surprise Spinner, बच्चों से लेकर बड़ों में है इसका क्रेज़


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें People

नेट पर पॉप्युलर