भारत-रूस संयुक्त सैन्य अभ्यास हुआ शुरू, अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद का खात्मा करना है उद्देश्य

author image
Updated on 23 Sep, 2016 at 6:30 pm

Advertisement

भारत-रूस संयुक्त सैन्य अभ्यास की शुरुआत हो चुकी है। इस सैन्य अभ्यास की शुरुआत रूस के व्लादिवोस्तोक में हुई।


Advertisement

‘इंद्र-2016’ के नाम से हो रहे इस भारत-रूस सैन्य अभ्यास में भारत की ओर से 250 सैनिक हिस्सा ले रहे हैं। यह सैन्य अभ्यास 2 अक्टूबर तक चलेगा।

दोनों ही देशों ने आपसी साझेदारी और सहयोग के चलते अभ्यास का फैसला किया है। इस सैन्य अभ्यास का उद्देश्य हवाई और तोपखाना यूनिटों के उपयोग से अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खतरों और नई चुनौतियों से निपटने की तैयारी करना है।

यहां बता दें कि रूस ने उरी हमले की कड़े शब्दों में निंदा की थी। वहीं, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए 15-16 अक्टूबर को भारत का दौरा करने वाले हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement